बरसात में घूमने जरूर जाए राजस्थान की इन 5 जगहों पर, आएगा मजा

उत्तर भारत के कई इलाकों में मानसून (Monsoon) आ चुके है और अब कई लोगों ने घूमने का प्लान बनाना शुरू कर दिया है। वैसे बारिश के मौसम में लोग ऐसी जगह पर घूमना पसंद करते हैं, जहां बाढ़, भूस्खलन या मौसम से जुड़े अन्य खतरे न हों। ऐसे में बारिश में राजस्थान घूमने के लिए एक बेहतरीन जगह है और हमे यकीन है यहां के कई टूरिस्ट प्लेस आपके सफर को यादगार बना देंगे। आइए जानते हैं उन जगहों के बारे में।

जालौर (Jalore)- स्वर्णगिरि पर्वत की तलहटी में स्थित जालोर को ‘ग्रेनाइट और भव्यता का शहर’ कहा जाता है। जी दरअसल मानसून के मौसम में शहर की अरावली पर्वतमाला मनमोहक दिखाई देती है। यहाँ पहाड़ियों और हरियाली से भरा यह शहर अपने ऐतिहासिक किलों के लिए प्रसिद्ध है। इसी के साथ आपको यहां घूमने के लिए जालोर किला, तोपखाना, सुंधा माता मंदिर, मलिक शाह की मस्जिद, सिरी मंदिर समेत कई जगह मिल सकते हैं।

माउंट आबू (Mount Abu)- राजस्थान के टूरिस्ट प्लेस में माउंट आबू शामिल है। यह राजस्थान का एकमात्र हिल स्टेशन है जो पर्यटकों के सबसे पसंदीदा स्थलों में से एक है। बारिश में यह डेस्टिनेशन सबसे बेहतरीन है। अपने नीले पानी और साफ वातावरण के साथ नक्की झील मानसून में बेहद रोमांटिक लगती है। माउंट आबू में नक्की झील, गुरु शिखर, टॉड रॉक व्यू पॉइंट, माउंट आबू अभयारण्य, दिलवाड़ा जैन मंदिर समेत कई बेहतरीन स्थान हैं।

उदयपुर (Udaipur)- बारिश के मौसम में उदयपुर घूमने के लिए बेहतरीन स्थानों में से एक है। यहाँ फतेह सागर झील के आकर्षक दृश्यों और प्रकृति की खूबसूरती वाला यह शहर बारिश में भीगते हुए लुभावना लगता है। इसी के साथ शहर में घूमने के कई स्पॉट हैं, जिनमें उदयपुर सिटी पैलेस, लेक पैलेस, जग मंदिर, मानसून पैलेस, फतेह सागर झील, पिछोला झील शामिल हैं।

पुष्कर (Pushkar)- राजस्थान के सबसे लोकप्रिय गंतव्य में से एक खूबसूरत शहर पुष्कर है। जी दरअसल बारिश के समय यहां मौसम अच्छा हो जाता है। इसके अलावा इस शहर में आप सांस्कृतिक और धार्मिक स्थानों पर भी घूम सकते हैं। यहां के प्रमुख आकर्षण में पुष्कर झील, भगवान ब्रह्मा मंदिर, सावित्री मंदिर, रंगजी मंदिर शामिल हैं।

झालावाड़ (Jhalawar)- राजस्थान और मध्य प्रदेश के बॉर्डर पर बसा झालावाड़ शहर वनस्पतियों और जीवों से भरपूर एक जीवंत स्थान है। यहाँ झालावाड़ का हरा-भरा परिदृश्य लाल चट्टानों से घिरा हुआ है, जो बारिश से धुलने के बाद शानदार दिखता है। वहीं नारंगी के बाग और लाल खसखस के खेत इसे राजस्थान के सुरम्य मानसून स्थलों में से एक बनाते हैं। यहाँ झालावाड़ किला, गागरोन किला, कोलवी गुफाएं, चंद्रभागा मंदिर, झालरापाटन, द्वारकाधीश मंदिर, हर्बल गार्डन में आप घूम सकते हैं।

जुलाई से लेकर सितंबर तक खुली रहती है फूलों की घाटी, जाए जरूर

पार्टनर के साथ जा रहे हैं घूमने तो इन जगहों पर जाकर आ जाएगा मजा

प्राचीन भारत को देखना है तो इन गांवों का करें रुख

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -