भारी बारिश के कारण बिगड़े मध्य प्रदेश के हालात, खतरा बनकर बह रही चंबल नदी

भोपाल: कोरोना महामारी के बीच भारी बारिश ने देश के कई राज्यों में स्थिति को और विकट कर दिया है वही इस बीच मध्य प्रदेश में भारी वर्षा की वजह से स्थिति खराब होते जा रही हैं। ग्वालियर-चंबल संभाग के हालात रोजाना बिगड़ते जा रहे है। चंबल नदी में जलस्तर निरंतर बढ़ रहा है, वर्तमान में नदी का जलस्तर 122 मीटर ऊपर पहुंच चुका है। जिससे आसपास के गांवों को संकट है। नदी किनारे बसे गांवों में अलर्ट जारी कर दिया गया है। 

वही चंबल नदी के समीप के गांवों में रहवासियों को सुरक्षा तथा सजगता के लिए समझाइश दी जा रही है। जिले एवं सम्बंधित विभाग के अफसरों को सभी तैयारियां रखने के निर्देश दे दिए गए हैं। भारी वर्षा को देखते हुए ग्वालियर में संभागायुक्त दफ्तर में कंट्रोल रूम का गठन किया गया तथा आम जनता की समस्यां के लिए हेल्पलाइन नंबर भी जारी किए गए हैं। किसी विकट हालात में लोग कंट्रोल रूम के इन नंबरों 0734-230013, 07534-230023, 0753-4230025 पर कॉल कर खबर दे सकते हैं। उनकी तुरंत सहायता की जाएगी। 

गौरतलब है कि एमपी के ग्वालियर-चंबल संभाग के श्योपुर, शिवपुरी, ग्वालियर, मुरैना, भिंड, अशोकनगर, दतिया तथा गुना जिले में मौसम विभाग ने भारी से अति भारी वर्षा का रेड अलर्ट जारी किया हुआ है। बारिश के कारण कई स्थानों पर स्थिति इतनी खराब हो गई है कि सेना की सहायता भी लेनी पड़ रही है। ग्वालियर चंबल संभाग में गांव तकरीबन प्रत्येक गांव में बाढ़ की स्थिति बनी हुई हैं। ऐसे में लोग अपनी जान बचाने के लिए जरुरी सामान के साथ अपना घर बार छोड़कर सुरक्षित जगह पर पहुंच रहे हैं।

रणबीर कपूर और कार्तिक आर्यन को इस मशहूर बॉलीवुड स्टार ने दी शिकस्त, ‘बैजू बावरा’ में आएगा नजर

तमिलनाडु में कोरोना के मामलों में वृद्धि के बाद लागू होंगे नए प्रतिबन्ध

Tokyo Olympics: 30 मिनट स्थगित रहेगी असम विधानसभा, 'लवलीना' का मैच देखेंगे सभी MLA

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -