यूपी-बिहार में ट्रेनें जलाने के पीछे कांग्रेस के संगठन NSUI का हाथ ! रेलवे की रिपोर्ट में दावा

नई दिल्ली: RRB-NTPC भर्ती परीक्षा को लेकर बिहार और उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में हुए हिंसक प्रदर्शन के पीछे आखिर कौन है? ट्रेनों में आगजनी और तोड़फोड़ के बाद बिहार में पुलिस ने जहां 'खान सर' समेत कई कोचिंग संचालकों के खिलाफ मामला दर्ज किया है, तो वहीं अब कांग्रेस पार्टी के छात्र संगठन नेशनल स्टूडेंट यूनियन ऑफ इंडिया (NSUI) का नाम भी सामने आ रहा है। रेलवे की इंटेलिजेंस रिपोर्ट में बताया गया है कि है कि NSUI ने ही छात्रों से 26 जनवरी को पूरे देश में 'रेल रोको' अभियान का आह्वान किया था।

पूर्वी रेलवे के DIG और चीफ सिक्यॉरिटी कमिश्नर की तरफ से 25 जनवरी को लिखे गए पत्र में कहा गया है कि इस बात के इनपुट मिले हैं कि RRB-NTPC अभ्यर्थियों को 26 जनवरी के दिन पूरे देश में रेल रोको अभियान चलाने के लिए कहा गया था। NSUI ने रेल रोको अभियान को अपना समर्थन दिया है। DIG ने अपने पत्र में कहा था कि NSUI इस अभियान में भागीदारी कर कोई अप्रिय घटना को भी अंजाम दे सकता है। 

DIG ने सभी रेलवे अधिकारियों से इस इनपुट के आधार पर एहतियाती कदम उठाने के निर्देश दिए थे, ताकि किसी अवांछित घटना से बचा जा सके। हालांकि, इसके बाद भी कई जगहों पर ट्रेनों में आग लगा दी गई तो जगह-जगह प्रदर्शनकारियों ने पटरियां जाम कर दी।

संयुक्त राष्ट्र के दूत ने तालिबान से अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के साथ जुड़ाव बढ़ाने का आह्वान किया

मनाली में फ़ास्ट टैग के माध्यम से सैलानियों से वसूला जाएगा ग्रीन टैक्स

राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने अरुणाचल सरकार को चकमा लोगो के अधिकारों की रक्षा करने का निर्देश दिया

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -