राहुल को अपने पूर्वजों से सीख लेनी चाहिएः योगी आदित्यनाथ

राहुल को अपने पूर्वजों से सीख लेनी चाहिएः योगी आदित्यनाथ

रायपुर : गोरखपुर से बीजेपी के सांसद योगी आदित्यनाथ ने जवाहर लाल नेहरु यूनिवर्सिटी मामले में दिए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के बयान को लेकर कहा कि उन्हें अपने पूर्वजों से सीखना चाहिए, जिन्होने देश की स्वतंत्रता के आंदोलन में भाग लिया था। योगी छतीसगढ़ में एक कार्यक्रम में भाग लेने आए थे। इससे पहले उन्होने रायपुर में बन रहे राम मंदिर का मुआयना किया और पत्रकारों से बातचीत की।

योगी ने राहुल के बयान को दुर्भाग्यपूर्ण और निंदनीय बताता। उन्होने कहा कि एक राष्ट्रीय दल का नेता जो राष्ट्रीय उपाध्यक्ष है, यदि वो आतंकियों के महिमामंडन में शामिल होगा, तो यह दुर्भाग्यपूर्ण है। साथ ही यह राष्ट्र की एकता और अखंडता के लिए भी खतरनाक है। राहुल गांधी को उन पाठशालाओं में जाना चाहिए जहां वो उन मार्गदर्शकों के बारे में पढ़ सके औऱ सीख सके।

योगी ने कहा कि जेएनयू में जो भी हुुआ उसे कोई भी सभ्य समाज या जिन्होने भारत के संविधान की शपथ ली होगी, समर्थन नहीं कर सकता। सेक्यूलरिज्म का इससे बड़ा पाठ और कोई नहीं हो सकता है कि जेएनयू में जो घटनाएं हुई है वो उसका विरोध नहीं कर रहा है।

राम मंदिर के मपद्दे पर योगी ने कहा कि पुरातत्व विभाग के पूर्व अधिकारियों ने अपने किताब में लिखा है कि जहां पर विवादित ढांचा था उसके नीचे प्राचीन मंदिर के अवशेष पाए गए हैं। ढांचा टूटने के बाद भी वहां मंदिर के तमाम चिन्ह प्राप्त हुए हैं। जब वहां राम जन्मभूमि होने के प्रमाण मिल रहे हैं तब किस बात का विवाद।