अंकिता हत्याकांड पर आया राहुल गांधी का बड़ा बयान, जानिए क्या कहा?

देहरादून: अंकिता हत्याकांड पर पुलिस द्वारा अभी जांच निरंतर जारी है। इस बीच अब कांग्रेस के सांसद राहुल गांधी ने उत्तराखंड की बीजेपी सरकार पर बड़ा हमला बोला है। राहुल गांधी ने कहा कि अंकिता इसलिए मर गई क्योंकि उसने वेश्या बनने से मना कर दिया था। एक कार्यक्रम में राहुल गांधी ने बीजेपी एवं RSS की विचारधारा पर प्रश्न उठाए तथा कहा कि वो महिलाओं को सेकेंड क्लास सिटिजन के रूप में देखते हैं। 

राहुल गांधी ने कहा, 'बीजेपी और RSS की विचारधारा रही है कि वो महिला को सेकेंड क्लास सिटिजन के रूप में देखते हैं। कई बार आपने सुना होगा कि वो किसी महिला के साथ छेड़खानी के पश्चात् यह बोलते हैं कि उसके साथ छेड़कानी में उसी की गलती है। इसका सबसे शर्मनाक उदाहरण हाल ही में सामने आया है। मैं उत्तराखंड की बात कर रहा हूं। मुझे नहीं पता कि आप लोगों को इसकी खबर है या नहीं?' आगे राहुल गांधी ने कहा, 'एक बीजेपी नेता जिनके बेटे होटल चलाते हैं वो एक युवा लड़की पर वेश्या बनने का दबाव बना रहे थे। जरा सोचिए, बीजेपी के एक नेता का बेटा एक लड़की को वेश्या बनने के लिए उसपर दबाव बना रहा है। उसके Whatsapp पर मैसेज है जिसमें वो वेश्या बनने से मना करती है। वो लोग उसे 10,000-15,000 रुपये वेश्या बनने के लिए ऑफर करते हैं। जब हमारी बहन ने वेश्या बनने से मना कर दिया तब उसका क़त्ल कर दिया गया तथा उसकी लाश एक नहर में मिली है। भाजपा भारत में ऐसे ही महिलाओं को ट्रीट करती है। इसपर कौन लेगा एक्शन? लोग स्वयं इसपर एक्शन लेंगे। राज्य के सीएम क्या कर रहे? उन्होंने होटल को ध्वस्त कर सबूत को नष्ट कर दिया जिससे किसी को सबूत नहीं मिले। यहीं भाजपा की सोच है।'

दूसरी तरफ उत्तराखंड के सीएम पुष्कर सिंह धामी ने मंगलवार को कहा कि उनकी सरकार ने अंकिता भंडारी हत्याकांड के अपराधियों को जल्द से जल्द सजा दिलाने के लिए कोर्ट से 'फास्ट ट्रैक अदालत' गठित करने का अनुरोध किया है। यहां मुख्यमंत्री दफ्तर के एक ट्वीट  में धामी के हवाले से कहा गया, '' हमारी सरकार ने माननीय अदालत से आरोपियों को जल्द से जल्द सजा मिले, इस हेतु फास्ट ट्रैक कोर्ट बनाने का निवेदन किया है।''

आज से लखनऊ में सपा का राष्ट्रीय अधिवेशन, फिर होगी अखिलेश की ताजपोशी

VIDEO! नीतीश कुमार ने तेजस्वी यादव को बना दिया 'मुख्यमंत्री', बिहार में मची सियासी हलचल

मोदी सरकार ने कट्टरपंथी संगठन PFI पर लगाया बैन, आतंकियों से ज्यादा खतरनाक थे मंसूबे

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -