राहुल गाँधी ने किया पीएम मोदी को समर्थन देने का वादा

राहुल गाँधी ने किया पीएम मोदी को समर्थन देने का वादा

महिला आरक्षण बिल को आगामी मॉनसून सत्र में पास करवाने को लेकर कांग्रेस अध्‍यक्ष्‍ा राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिठ्ठी लिखी है. राहुल ने चिट्ठी में लिखा है कि महिला आरक्षण बिल को आगामी मॉनसून सत्र में ही पास कराया जाए. राहुल ने पीएम से कहा कि लोकसभा में उनका बहुमत है, ऐसे में वे 2014 के अपने चुनावी घोषणापत्र के वादे को पूरा करें. राहुल गांधी ने लिखा कि प्रधानमंत्री मोदी अपनी रैलियों में महिलाओं के स‍शक्तिकरण की बात करते हैं. ऐसे में इस विधेयक को पास करने से बेहतर महिलाओं के हक में और क्‍या होगा. राहुल ने लिखा कि महिला आरक्षण विधेयक राज्‍यसभा में 2010 में ही पास हो गया था और उस वक्‍त बिल के पास होने को वर्तमान सरकार में वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने एतिहासिक बताया था. ऐसे में इसे इस बार पास करांए जो कि लोकसभा में पिछले आठ साल से लटका हुआ है.

कांग्रेस अध्यक्ष ने प्रधानमंत्री को संबोधित चिट्ठी में लिखा है, 'जैसा कि आप जानते हैं कि महिला आरक्षण बिल 9 मार्च 2010 को राज्यसभा में पास किया गया, जो बीते 8 साल से वह लोकसभा में अटका हुआ है. जब यह बिल पास किया गया तो उस वक्त नेता विपक्ष अरुण जेटली जी ने उसे ऐतिहास और जरूरी बताया था.तब से कांग्रेस इस विधेयक के लिए प्रतिबद्ध है.' राहुल ने लिखा है, 'बीजेपी भी इसी विचार की है. यह साल 2014 उसके मैनिफेस्टो में प्रमुख मुद्दा था.'

उन्होंने लिखा है, 'प्रधानमंत्री जी आपने कई सार्वजनिक रैलियों में महिलाओं के सशक्तिकरण की बात कर चुके हैं. इससे बेहतर रास्ता और क्या हो सकता है कि महिलाओं के मुद्दे पर हम आपको बिना शर्त समर्थन दे रहे हैं. आगामी संसद के सत्र से बेहतर समय क्या हो सकता है? इसमें और देरी करने से आगामी चुनावों में लागू करना असंभव हो जाएगा. ' राहुल ने लिखा है, 'महिलाओं के मुद्दे पर हमें राजनीति और दलीय निष्ठा से आगे बढ़कर साथ आना होगा इसके साथ ही यह संदेश भी देना होगा कि बदलाव का समय आ गया है.' बता दें कि आज कांग्रेस देश भर में महिला आक्रोश कार्यक्रम का आयोजन कर रही है जिसके तहत महिला आरक्षण बिल पास कराए जाने की मांग की जा रही है.

मध्यप्रदेश: इस फार्मूले के साथ बसपा-कांग्रेस गठबंधन तय

इस काम के लिए राहुल गांधी की मदद मांगेगी सुमित्रा महाजन

कांग्रेस मुस्लिमों की पार्टी है: मोदी

 

?