अमेरिका में आर्थिक, राजनीतिक मामलों पर व्याख्यान देंगे राहुल गांधी

नईदिल्ली। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी अमेरिका पहुॅंचे हैं। वे यहाॅं बर्कले में यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया में 11 सितंबर को एक व्याख्यान देंगे। व्याख्यान का विषय भारत एवं विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र की आगे की राह होगा। गौरतलब है कि पंडित जवाहर लाल नेहरू ने वर्ष 1949 में प्रधानमंत्री के तौर पर बर्कले में व्याख्यान दिया था। अब राहुल गांधी यहाॅं पहुॅंच रहे हैं। इस आयोजन के ही साथ वे अंतर्राष्ट्रीय आर्थिक और तकनीकी मसले पर वैश्विक चिंतकों, नेताओं और अन्य प्रवासी भारतीयों के साथ चर्चा भी करेंगे।

इस आयोजन को लेकर जब राहुल गांधी सैन फ्रांसिस्को हवाई अड्डे पर पहुॅंचे तो उनका स्वागत प्रोद्यौगिकीविद सैम पित्रोदा और भारतीय राष्ट्रीय प्रवासी कांग्रेस आईएनओसी अमेरिका के अध्यक्ष शुद्ध सिंह ने किया। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी बर्कले में प्रतिष्ठित यूनिवर्सिटी आॅफ कैलिफोर्निया में इंडिया एट 70 रिफ्लेक्शन आॅन द पाथ फोरवर्ड विषय पर विद्यार्थियों को व्याख्यान देने वाले हैं।

वे भारत और लोकतंत्र को लेकर भी चर्चा करेंगे। राहुल यहाॅं लगभग 2 सप्ताह तक रहेंगे। कांग्रेस उपाध्यक्ष वाशिंगटन डीसी जाएंगे। उनकी सेंटर फॉर अमेरिकन प्रोग्रेस के एक समारोह में थिंक टैंक समुदाय के सदस्यों को संबोधित करने की योजना है और अमेरिका भारत व्यापार परिषद के एक अन्य कार्यक्रम में कॉरपोरेट विश्व के साथ वार्ता करेंगे।

पित्रोदा ने कहा कि राहुल गांधी सत्तारूढ़ रिपब्लिकन पार्टी के कुछ सदस्यों से भी मुलाकात कर सकते हैं। इस मौके पर सैम पित्रोदा ने कहा कि दिलचस्प एवं वैश्विक विचारकों से मुलाकात का उद्देश्य अर्थव्यवस्था, तकनीक, अवसरों पर विश्व में हो रहे घटनाक्रमों पर वार्ता करना और वैश्विक परिदृश्य पर विशेषज्ञों के विभिन्न विचारों को सुनना है।

पित्रोदा ने भारत के दूरसंचार क्षेत्र में बदलाव लाने के लिए पूर्व प्रधानमंत्री एवं राहुल गांधी के पिता राजीव गांधी के साथ करीब एक दशक तक काम किया था, उन्होंने कहा कि राहुल गांधी न्यूयार्क में प्रवासी भारतीयों से मुलाकात करेंगे।

राहुल गांधी पर फडणवीस का पलटवार

राहुल बोले उद्योगपतियों के अलावा किसानों की भी जरूरत

बिहार कांग्रेस अध्यक्ष अशोक चौधरी से पार्टी हुई नाराज, हो सकती है जल्दी छुट्टी

राहुल कर रहे बिहार में कांग्रेस विधायकों से चर्चा, जान रहे बिखराव के कारण

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -