ग्रामीणों के लिए भी बने बंकर : राहुल गांधी

Aug 26 2015 03:13 PM
ग्रामीणों के लिए भी बने बंकर : राहुल गांधी

पूँछ : कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी आज भारत और पाकिस्तान की सीमा से लगे भारतीय क्षेत्र में पहुंचे। इस दौरान उन्होंने वहां रहने वाले ग्रामीणों से भेंट की। इस दौरान उन्होंने पुंछ जिले के बालाकोट में हुई फायरिंग और उससे होने वाले नुकसान को जाना। मामले में उन्होंने ग्रामीणों से मुआवज़े को लेकर भी चर्चा की। इस मसले पर उन्होंने कहा कि आखिर मैं लोगों का दुख जानने आया हूं। जो लोग फायरिंग में मारे जाते हैं उन्हें अधिक मुआवज़ा मिलना चाहिए।

मवेशियों का भी बीमा होना बहुत जरूरी है कई बार फायरिंग में मवेशी भी मर जाते हैं। ग्रामीणों के लिए भी बंकर बनाने की जरूरत पर उन्होंने चर्चा की। राहुल गांधी आज सीमा के दौरे पर पहुंचे। इस दौरान उन्होंने कहा कि जम्मू - कश्मीर में सीमाओं की सुरक्षा के साथ ग्रामीणों की सुरक्षा पर भी ध्यान देने की जरूरत है।

यही नहीं नागरिकों के सुरक्षा उपाय अधिक अच्छे से करने की जरूरत है। दूसरी ओर जम्मू - कश्मीर कांग्रेस अध्यक्ष गुलाम मीर से भी उन्होंने भेंट की। इस दौरान उन्होंने जम्मू में पंचायत स्तर के कांग्रेसियों के साथ भेंट किए जाने की बात भी की। शुक्रवार को लद्दाख का दौरा करने पर भी उन्होंने चर्चा की।

मामले में यह बात भी सामने आई कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा पार्टी कार्यकर्ताओं से वन रैंक वन पेंशन, पंचायती राज, किसान के मसले और अन्य मामलों को लेकर भी चर्चा की। सीमा क्षेत्रों में फायरिंग से फसल रोपण आदि को होने वाले नुकसान को लेकर भी उन्होंने चर्चा की। उल्लेखनीय है कि पुंछ जिले के बालकोट में 15 अगस्त के दिन पाकिस्तान द्वारा जमकर फायरिंग की गई। बालाकोट और इसके आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों में 6 लोगों की जान चली गई इस दौरान दर्जनों लोग घायल हो गए।