आतंकी का सम्मान करके बुरे फंसे राहुल गाँधी, भाजपा नेताओं ने लगाई क्लास

नई दिल्ली : 2019 लोकसभा चुनाव के बाद केंद्र की सत्ता से मोदी सरकार को उखाड़ फेंकने के दावे के साथ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अपनी राजीनित की गाड़ी चला रहे हैं। हालांकि इस बीच राहुल ने खुद ही अपनी राह में रोड़ा अटकाने का काम कर दिया है। हालांकि यह पहला मौका नहीं है जब राहुल गांधी को अपने किसी बयान के लिए विरोधियों की आलोचनाएं झेलनी पड़ी हैं, बल्कि जाने अनजाने में वे ऐसी गलती कई दफा कर चुके हैं।

आज कांग्रेस में हो सकता है हार्दिक का स्वागत

इस क्रम में सोमवार को उन्होंने पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर के लिए 'जी' शब्द का प्रयोग कर डाला। हालांकि भारतीय संस्कृति के मुताबिक अगर देखा जाए तो किसी को 'जी' कहना गलत बात नहीं है। यहां अधिकतर लोग खुद से बड़े या सम्मानित लोगों को संबोधित करते हुए 'जी' का इस्तेमाल किया करते हैं। किन्तु एक आतंकवादी, जिसमें भारत में कई दर्दनाक हमले कराए हैं, उस पर 'जी' शब्द सूट नहीं करता!

अब पीएम मोदी के गढ़ से, चुनाव अभियान की शुरुआत करेंगे राहुल और प्रियंका

वहीं चुनावी माहौल में राहुल गांधी द्वारा आतंकी के लिए 'जी' कहना खासकर सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेताओं को बिलकुल रास नहीं आया है। राहुल के इस बयान के बाद भाजपा की तरफ से कई नेताओं व मंत्रियों ने राहुल की निंदा करते हुए सोशल मीडिया पर पोस्ट किए हैं। इस क्रम में मंत्री स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी की निंदा करते हुए कहा है कि, "राहुल गांधी और पाकिस्तान के बीच क्या चीज़ कॉमन है? उनका आतंकियों के लिए प्यार। कृपया आतंकवादी मसूद अजहर के लिए राहुल जी की श्रद्धा पर ध्यान दें।" अपने इस ट्वीट के साथ ईरानी ने #RahulLovesTerrorists कैप्शन भी लिखा है।

 

खबरें और भी:-

आतंकवादियों को बांग्लादेश की भूमि का इस्तेमाल नहीं करने देंगी हसीना

गुजरात में कांग्रेस को एक और झटका, MLA ने इस्तीफा देकर थामा भाजपा का हाथ

सिर्फ पाकिस्तान ही नहीं इमरान खान भी हो रहे कंगाल, देखें ये रिपोर्ट

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -