109 जोड़ी प्राइवेट ट्रेनों की घोषणा पर राहुल गांधी का हमला, बोले- करारा जवाब मिलेगा

109 जोड़ी प्राइवेट ट्रेनों की घोषणा पर राहुल गांधी का हमला, बोले- करारा जवाब मिलेगा

नई दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने रेलवे के उस फैसले को लेकर सरकार पर हमला बोला है, जिसमें 109 जोड़ी प्राइवेट ट्रेनें चलाने की घोषणा की गई है. राहुल ने इस बाबत गुरुवार को ट्वीट करते हुए कहा कि-  'रेल गरीबों की जीवनरेखा है और सरकार उसे छीन रही है.' राहुल ने अपने ट्वीट में लिखा कि, 'रेल गरीबों की एकमात्र जीवनरेखा है और सरकार उनसे छीन रही है. जो छीनना है, छीनिए. किन्तु याद रहे, देश की जनता इसका करारा जवाब देगी.'

उल्लेखनीय है कि रेलवे ने बुधवार को अपने नेटवर्क पर यात्री ट्रेनें चलाने के लिए निजी इकाइयों को इजाजत देने की योजना पर औपचारिक रूप से कदम उठाया. इसके तहत यात्री रेलगाड़ियों के परिचालन को लेकर 109 मार्गों पर 151 आधुनिक ट्रेनों के माध्यम से परिचालन के लिए पात्रता अनुरोध आमंत्रित किए गये हैं. रेलवे ने यह जानकारी दी है. रेलवे ने कहा कि इसमें निजी क्षेत्र से लगभग 30,000 करोड़ रुपये का निवेश होगा.

रेलवे के नेटवर्क पर यात्री ट्रेनों के परिचालन के लिए निजी निवेश के लिए यह पहला कदम है. वैसे गत वर्ष भारतीय रेलवे खान-पान और पर्यटन निगम (IRCTC) ने लखनऊ-दिल्ली तेजस एक्सप्रेस के साथ इसकी शुरूआत हुई थी. फिलहाल IRCTC तीन ट्रेनों- वाराणसी-इंदौर मार्ग पर काशी-महाकाल एक्सप्रेस, लखनऊ-नई दिल्ली तेजस और अहमदाबाद-मुंबई तेजस को ऑपरेट करता है.

यह राज्य कोरोना मरीजों के लिए बनाने वाला है 1 लाख बेड

प्रियंका वाड्रा ने चुकाया सरकारी बंगले का बकाया बिल, एक माह में करना है खाली

एमपी राज्यपाल लालजी टंडन की हालत स्थिर, सांस लेने में है दिक्कत