इंडिया गेट से 'अमर जवान ज्योति' हटाने पर बोले राहुल गांधी- 'बहुत दुख की बात है कि...'

नई दिल्ली: देश की राजधानी दिल्ली में इंडिया गेट पर जलने वाली अमर जवान ज्योति का आज राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर जल रही लौ में विलय किया जाएगा। इस निर्णय का कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने विरोध किया है। राहुल गांधी ने बोला है कि कुछ लोग देशप्रेम तथा बलिदान नहीं समझ सकते। अमर जवान ज्योति इंडिया गेट पर बीते 50 वर्षों से जल रही है। राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा, ''बहुत दुख की बात है कि हमारे वीर जवानों के लिए जो अमर ज्योति जलती थी, उसे आज बुझा दिया जाएगा। कुछ लोग देशप्रेम व बलिदान नहीं समझ सकते। कोई बात नहीं। हम अपने सैनिकों के लिए अमर जवान ज्योति एक बार फिर जलाएंगे।''

वही सेना के अफसरों ने कहा कि अमर जवान ज्योति का शुक्रवार दोपहर को राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर जल रही लौ में विलय किया जाएगा, जोकि इंडिया गेट के दूसरी ओर सिर्फ 400 मीटर की दूरी पर मौजूद है। पीएम नरेंद्र मोदी ने 25 फरवरी 2019 को राष्ट्रीय युद्ध स्मारक का उद्घाटन किया था, जहां 25,942 जवानों के नाम स्वर्ण अक्षरों में लिखे गए हैं।

बता दे कि अमर जवान ज्योति की स्थापना उन भारतीय जवानों की याद में की गई थी, जोकि 1971 के भारत-पाक युद्ध में शहीद हुए थे। इस युद्ध में भारत को सफलता मिली थी तथा बांग्लादेश का गठन हुआ था। तत्कालीन पीएम इंदिरा गांधी ने 26 जनवरी 1972 को इसका उद्घाटन किया था।

इंडिया गेट पर अब नहीं जलेगी ‘अमर जवान ज्योति’, यहां पर होगी प्रज्वलित

बड़ी खबर: अब और भी सस्ते में होगा कोरोना का टेस्ट, जानिए कैसे

इस नैशनल हग डे पर अपनों को दें कुछ इस अंदाज़ में बधाईयां

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -