राहुल गाँधी लाइव : पूर्ण हुआ राहुल का रोड शो, जानिये इस शो की ख़ास बातें

राहुल गाँधी लाइव : पूर्ण हुआ राहुल का रोड शो, जानिये इस शो की ख़ास बातें

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी का रोड शो पूर्ण हो चूका है। दोपहर करीब डेढ़ बजे भोपाल के लालघाटी से शुरू हुए इस रोड शो का अंत  शाम करीब पौने छह बजे दशहरा मैदान पर हुआ। तो आइये हम आपको बताते है उनके इस रोड शो से जुड़े खास तथ्य। 

मेघालय से कांग्रेस को लगा बड़ा झटका, वरिष्ठ नेता ने दिया इस्तीफ़ा

लालघाटी से अपनी रैली शुरू करने से पहले इस आयोजन स्थल पर सात बालिकाओं ने तिलक लगा कर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का स्वागत किया था। इससे पहले भोपाल एयरपोर्ट पर पहुंचते ही मध्यप्रदेश के कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी उनका जोरदार स्वागत किया था।

उल्लेखनीय है कि मध्यप्रदेश में तक़रीबन दो माह बाद विधानसभा चुनाव होने वाले है। इसके मद्देनजर राहुल के इस रोड शो से कांग्रेस को राज्य में अपनी पकड़ मजबूत बनाने की काफी उम्मीदे जागी है। 

 

राहुल मंदिरों के चक्कर लगा रहे है तो मोदी मस्जिदों के : अरविन्द केजरीवाल


शाम करीब 4.30 बजे  कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की यह रैली  एमपी नगर से होते हुए भेल के दशहरा मैदान की ओर निकली। इस दौरान इस मार्ग पर पुलिस का भारी बल तैनात था। राहुल करीब शाम पांच बजे अपने काफिले के साथ दशहरा मैदान पहुंच गए थे। इस यात्रा में उन्होंने तक़रीबन 15 किलोमीटर की दूरी पैदल चल कर तय की। 

दशहरा मैदान पहुंचकर राहुल ने वहां मौजूद जनता को सम्बोधित करना शुरू किया था। इस दौरान उन्होंने कई चुनावी वादे करने के साथ साथ विपक्ष पर कुछ बयानी हमले भी किये। जनता को सम्बोधित करते हुए राहुल ने  यह भी कहा कि वे चाहते है कि जब चीन का कोई युवा अपना फोन देखे तो उसके पीछे मेड इन इंडिया लिखा हो। उन्होंने यह भी कहा कि ये काम भाजपा और आरएसएस के लोग कर ही नहीं सकते क्योंकि इनको इतनी समझ ही नहीं है। राहुल ने  मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज पर भी निशाना साधते हुए कहा कि उन्होंने 20,000 से ज्यादा वादे किये थे लेकिन आज  मध्य प्रदेश में रोजगार तक नहीं दे पा रहे हैं। 

ख़बरें और भी 

राहुल गाँधी लाइव : कन्या पूजन से शुरू हुआ रोड-शो का कारवां

कांग्रेस का रोड शो लाइव : भोपाल पहुंचे राहुल गाँधी, हुआ जोरदार स्वागत

एक करोड़ बूथ सहयोगी के बड़े लक्ष्य के साथ लोकसभा चुनाव में उतरेगी कांग्रेस