चेन्नई के जिस कॉलेज में राहुल गाँधी ने किया था कार्यक्रम, अब होगी उसकी जांच

चेन्नई के जिस कॉलेज में राहुल गाँधी ने किया था कार्यक्रम, अब होगी उसकी जांच

नई दिल्‍ली: कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी की वजह से चेन्‍नई का स्‍टेला मैरिस कॉलेज मुसीबत में घिर गया है. 13 मार्च को कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने चेन्नई के एक कार्यक्रम के दौरान छात्र-छात्राओं को संबोधित किया था. अब डायरेक्‍टोरेट ऑफ कोलिजियेट एजुकेशन (डीसीई) ने क्षेत्रीय संयुक्त निदेशक को नोटिस जारी किया है. साथ ही यह भी कहा गया है कि इस मामले की जांच कर रिपोर्ट जल्द ही प्रस्तुत की जाए. डीसीई की तरफ से जारी पत्र में सवाल किया गया है कि जब देश में आचार संहिता लगी हुई है तो आखिर इस वक़्त किसी नेता द्वारा कॉलेज कैंपस को कार्यक्रम के लिए कैसे प्रयोग किया गया है.

लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगी मायावती, सिर्फ प्रचार पर करेंगी फोकस !

उल्लेखनीय है कि राहुल गांधी ने 13 मार्च को चेन्‍नई के स्‍टेला मैरिस कॉलेज में विद्यार्थियों से सीधा संवाद किया था. इस दौरान उन्‍होंने कश्मीर मुद्दे पर बोलते हुए पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी पर विवादित बयान दिया था. राहुल गांधी ने आरोप लगाया था कि पूर्व पीएम वाजपेयी की गलत नीतियों के कारण ही जम्मू-कश्मीर में हालात बिगड़ चुके थे. उन्होंने कहा था कि कांग्रेस ने हमेशा जम्मू-कश्मीर के हालात सुधारने की कोशिश की है, किन्तु वाजेपयी की गलत नीतियों के चलते आज वहां हालात बिगड़ गए हैं.

लोकसभा चुनाव: डीएमके-कांग्रेस गठबंधन में सुलझा सीट बंटवारे का पेंच, जानिए किसे क्या मिला...

चेन्‍नई में कॉलेज विद्यार्थियों के बीच संवाद के दौरान राहुल गांधी ने कहा था कि वर्ष 2004 में जब यूपीए की सरकार बनी तो वहां के हालात बेहद बिगड़े हुए थे. वाजपेयी सरकार की गलत सियासी नीतियों के चलते कश्मीर में हालात बिगड़ गए थे. हमारी सरकार की नीतियों के कारण  वहां हालात सुधरे हैं. हम पाकिस्तान पर दबाव बनाने में कामयाब रहे थे. हम जम्मू-कश्मीर की आवाम के साथ मेल-जोल बढ़ा रहे थे.

खबरें और भी:-

लोकसभा चुनाव: सपा ने घोषित किए चार उम्मीदवारों के नाम, अपर्णा यादव को तगड़ा झटका

मिशन लोकसभा: 'शेरों के तेवर नहीं बदलते', विपक्ष के लिए भाजपा लाई 27 साल पुराने मोदी, देखें वीडियो

इजरायल ने गाज़ा पट्टी पर की एयर स्ट्राइक, आतंकी अड्डों को बनाया निशाना