कांग्रेस मुसलमानों की पार्टी पर राहुल का जवाब

कांग्रेस मुसलमानों की पार्टी पर राहुल का जवाब

दिल्ली: कांग्रेस मुसलमानों की पार्टी है इस बयान को कांग्रेस पहले ही खारिज कर चुकी है मगर बवाल को खारिज नहीं कर पा रही है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पूरे विवाद पर एक ट्वीट किया, जिसे 'मुस्लिम पार्टी' विवाद पर उनका जवाब माना जा रहा है. गांधी ने ट्वीट किया कि कांग्रेस के लिए जाति, मजहब और आस्था खास मायने नहीं रखती.

कांग्रेस अध्यक्ष ने ट्वीट किया, 'मैं पंक्ति में सबसे आखिर में खड़े शख्स के साथ हूं...शोषित, हाशिये पर खड़े और सताए गए लोगों के साथ हूं. उनका धर्म, उनकी जाति, आस्था मेरे लिए खास मायने नहीं रखती. जिन्हें भी दर्द है, पीड़ा है, मैं उन्हें गले लगाना चाहता हूं. मैं नफरत और भय को मिटाना चाहता हूं. मुझे सभी जीवों से प्यार है. मैं कांग्रेस हूं.' 


पिछले हफ्ते उर्दू अखबार 'इंकलाब' ने एक रिपोर्ट ने कहा है कि राहुल गांधी की मुस्लिम बुद्धिजीवियों के साथ मुलाकात के दौरान कहा था कि कांग्रेस मुसलमानों की पार्टी है.  इसके बाद से ही बीजेपी ने कांग्रेस को सांप्रदायिक पार्टी करार दिया है. रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कांग्रेस पर 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले देश को मजहब के आधार पर बांटने का आरोप लगाया तो खुद पीएम मोदी ने भी आजमगढ़ में कहा, कांग्रेस बताए कि वह सिर्फ मुस्लिम पुरुषों की पार्टी है या मुस्लिम महिलाओं की भी. जवाब में कांग्रेस ने अखबार की रिपोर्ट को गलत करार दिया.

राहुल की तोहिन करने वाले पर मायावती का कहर राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पद छिना

राहुल गाँधी ने किया पीएम मोदी को समर्थन देने का वादा

मध्यप्रदेश: इस फार्मूले के साथ बसपा-कांग्रेस गठबंधन तय

 

?