राहुल गाँधी बोले- मेरी दादी को पंजाबियों ने बचाया था, मैं पंजाब का कर्जदार

नई दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कृषि कानून के खिलाफ पंजाब में खेती बचाओ यात्रा के बीच प्रेस वार्ता को संबोधित किया. राहुल ने इस दौरान मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा, साथ ही कहा कि ये कानून ना केवक किसान बल्कि आम लोगों के लिए भी नुकसानदायक हैं. जब राहुल गांधी से सवाल किया गया कि आप पर पंजाब और पंजाबी भरोसा क्यों करें, तो उन्होंने अपनी दादी इंदिरा गांधी को लेकर एक घटना के बारे में बताया.

राहुल ने कहा कि पंजाबी लोग केवल मेरे शब्द नहीं एक्शन पर यकीन करें, मुझे पंजाब ने बहुत कुछ दिया है. जब मेरी दादी (पूर्व पीएम इंदिरा गांधी) ने 1977 में चुनाव हारा तो घर में कोई नहीं था, किन्तु केवल सिख ही थे जो उनके साथ खड़े थे. मेरी दादी को हमेशा सिखों ने बचाया, मैं हमेशा पंजाब का कर्जदार रहूंगा. यदि कुछ गलत हो रहा है, तो मैं आवाज़ अवश्य उठाऊंगा. मैं कमजोर के साथ खड़ा होता हूं, इसलिए शायद सियासी करियर धीमा पड़ा है, मगर मैं ऐसा ही हूं.

राहुल गांधी का ये बयान इसलिए भी मायने रखता है क्योंकि इंदिरा गांधी के क़त्ल के बाद सिख विरोधी दंगों में कांग्रेस का बड़ा हाथ था. वहीं, राहुल ने कृषि कानून पर कहा कि यदि इन कानून से फायदा होता तो फिर संसद में डिबेट क्यों करवाई, यदि फायदा है तो कोरोना के समय ही क्यों पारित किया. क्यों किसान सड़कों पर हैं. यदि कानून लाभकारी है तो, वो पटाखे क्यों नहीं फोड़ रहा है. 

हाथरस में हिंसा भड़काना चाहता था PFI, मोहसिन रजा ने की संगठन को बैन करने की मांग

इस्लामाबाद अदालत का फैसला, अब नवाज शरीफ कर सकते हैं संबोधित

हाथरस केस: रात में क्यों की गई थी पीड़िता की अंत्येष्टि ? योगी सरकार ने SC में बताया कारण

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -