ताजपोशी की ओर राहुल का पहला कदम

Dec 04 2017 11:20 AM
ताजपोशी की ओर राहुल का पहला कदम

नई दिल्ली। कांग्रेस में आज सुबह से ही हलचल मची हुई है। दरअसल पार्टी के अध्यक्ष पद के लिए आज, उपाध्यक्ष राहुल गांधी नामांकन दाखिल कर चुके हैं। पार्टी में अध्यक्ष पद की निर्वाचन प्रक्रिया अपनाई जा रही है। जिसे लेकर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी आज पार्टी कार्यालय पहुंचे। जब राहुल गांधी ने अध्यक्ष पद के निर्वाचन के लिए नामांकन दाखिल किया तो उस दौरान दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित और कई प्रमुख कांग्रेस नेता मौजूद रहे। राहुल गांधी के प्रस्ताव का समर्थन कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री डाॅ. मनमोहन सिंह ने किया था।

राहुल द्वारा पर्चा दायर करने के दौरान बड़े पैमाने पर पार्टी कार्यकर्ता कांग्रेस मुख्यालय में मौजूद रहे। नामांकन दायर करने के बाद अब इसकी स्क्रूटनी होगी। यदि किसी और नेता ने नामांकन दायर नहीं किया तो फिर यह तय हो जाएगा कि पार्टी के अध्यक्ष पद पर राहुल गांधी काबिज होंगे। उल्लेखनीय है कि लगातार 19 सालों से कांग्रेस अध्यक्ष रहने के बाद सोनिया गांधी अपने बेटे राहुल गांधी को पार्टी अध्यक्ष का पद सौंपना चाहती हैं। हालांकि नामांकन केवल राहुल गांधी का ही होना है,इसलिए कांग्रेस अध्यक्ष की घोषणा भी अगले दिन ही होने की उम्मीद है।

पार्टी प्रवक्ता सुष्मिता देव ने आंतरिक चुनाव की प्रक्रिया पर उठे विवाद के बारे में पूछे जाने पर कहा कि लोग कांग्रेस चुनाव लोकतांत्रिक है या नहीं, इस बात को लेकर आलोचना कर रहे हैं। लेकिन यह ऐसा चुनाव है जो भारतीय निर्वाचन आयोग की निगरानी में हो रहा है।

कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी के नामांकन प्रस्ताव को कांग्रेस शासित राज्यों के लगभग 6 मुख्यमंत्री भी अपना समर्थन देंगे। जिसमें पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह शामिल हैं। इस मामले में पूर्व केंद्रीय मंत्री शाहनवाज़ हुसैन ने मीडिया द्वारा पूछे गए सवालों पर कहा कि कांग्रेस में जो चुनाव प्रक्रिया अपनाई जा रही है वह उनकी पार्टी का मामला है लेकिन लोकतंत्र में चुनाव की बात करें तो, यह कोई नई बात नहीं है। उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि पार्टी के तत्कालीन अध्यक्ष सीताराम केसरी को किस तरह से बेइज्जत कर हटा दिया गया था। यह जो लोग जानते हैं वे बता सकते हैं कि वहां क्या हुआ था।

पार्टी के चुनाव की चयन प्रक्रिया को लेकर उन्होंने कहा कि, भाजपा में कई ऐसे नेता थे जो कि बूथ अध्यक्ष रहे और फिर पार्टी के अध्यक्ष बने, मगर कांग्रेस में गांधी शब्द से जुड़ा वह व्यक्ति जो नेहरू - गांधी परिवार का हो वही अध्यक्ष बनेगा इस तरह की प्रक्रिया है। यह लोकतांत्रिक प्रक्रिया नहीं कही जा सकती है। .आज आखिरी दिन कांग्रेस उपाध्यक्ष दाखिल करेंगे नामांकन पत्र के चार सेट पार्टी सूत्रों ने रविवार को बताया कि राहुल गांधी अपने नामांकन पत्रों के चार सेट जमा करेंगे। उनके चार नामांकनों में सोनिया गांधी उनकी पहली प्रस्तावक होंगी। मनमोहन सिंह उनके दूसरे नामांकन में प्रमुख प्रस्तावक होंगे। नामांकन के अंतिम दिन सोमवार को राहुल गांधी के समर्थन में 75 नामांकन फार्म से अधिक भरे जाने की उम्मीद है।

सूत्रों का कहना है कि सोनिया गांधी और मनमोहन सिंह के अलावा राहुल के नामांकन पत्र पर बतौर प्रस्तावक दस्तखत करने वालों में वरिष्ठ पार्टी नेता गुलाम नबी आजादए एके एंटनीए पी. चिदंबरम,सुशील कुमार शिंदे, अहमद पटेल और इनमें छह मुख्यमंत्री पंजाब के अमरिंदर सिंहए कर्नाटक के सिद्धारमैयाए हिमाचल के वीरभद्र, पुडुचेरी के वी.नारायणसामी, मेघालय के मुकुल संगमा और मिजोरम के लाल थंहावला भी मौजूद रहेंगे। उनके नामांकन के समर्थन में छह मुख्यमंत्री पंजाब के अमरिंदर सिंह, कर्नाटक के सिद्धारमैया, हिमाचल के वीरभद्र, पुडुचेरी के वीण्नारायणसामी, मेघालय के मुकुल संगमा और मिजोरम के लाल थंहावला भी पार्टी मुख्यालय में मौजूद रहेंगे।

कांग्रेस के केंद्रीय निर्वाचन प्राधिकरण के अध्यक्ष मुल्लापैली रामचंद्रन ने बताया कि, सोमवार को नामांकन का आखिरी दिन है लेकिन रविवार तक किसी ने भी अपना नामांकन दाखिल नहीं किया है। हालांकि अब तक राज्य की इकाइयों के प्रतिनिधियों को 90 नामांकन फार्म दिए जा चुके हैं। विभिन्न राज्यों से कांग्रेस के कई प्रतिनिधिमंडल राहुल गांधी के सर्वोच्च पद के लिए अपना समर्थन देने अकबर रोड स्थित पार्टी मुख्यालय में सोमवार की सुबह ही पहुंच जाएंगे। नामांकन की प्रक्रिया सुबह 10-30 बजे शुरू होगी। कांग्रेस प्रभारी रणदीप सुरजेवाला ने बताया कि राहुल गांधी के समर्थन में राज्य और अग्रज संगठनों के अलावा सभी पार्टी महासचिव, कांग्रेस कार्य समिति के सदस्य आदि भी शामिल होंगे।

कांग्रेस कमेटी के निर्धारित चुनाव कार्यक्रम के अनुसार नामांकन की प्रक्रिया 4 दिसंबर को खत्म हो रही है। अगले दिन यानी 5 दिसंबर को स्क्रूटनी के बाद दोपहर 3.30 बजे तक वैध नामांकनों की घोषणा भी कर दी जाएगी। नामांकन वापसी का आखिरी दिन 11 दिसंबर और जरूरत पडने पर मतदान 16 दिसंबर को होगा।

पार्टी में मची हलचल, पर्चा दाखिल करने रवाना हुए राहुल

इंटरव्यू बीच में छोड़ गए अमित शाह!

कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए आज नामांकन दायर करेंगे राहुल