भारत जोड़ो यात्रा: महू में बुलेट चलाते नज़र आए राहुल गांधी, जीतू पटवारी ने लगाई दौड़, Video

इंदौर: कांग्रेस के लोकसभा सांसद अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा निकाली जा रही 'भारत जोड़ो यात्रा' आज यानी रविवार (27 नवंबर) को मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर पहुंची। इस यात्रा के दौरान राहुल आज सुबह महू में यात्रा के दौरान बाइक चलाते दिखाई दिए। इसका एक वीडियो भी सामने आया है, जिसमें राहुल गांधी की बाइक के आगे सुरक्षाकर्मी दौड़ते दिखाई दे रहे हैं। राहुल गांधी के रास्ते को जल्दी-जल्दी खाली कराया जा रहा है। वहीं, राहुल के पीछे से उनके समर्थक दौड़ते नज़र आ रहे हैं, जिनमें एक व्यक्ति तिरंगा लिए पीछे-पीछे दौड़ रहा है। इस दौरान मध्य प्रदेश के वरिष्ठ कांग्रेस नेता और पूर्व मंत्री जीतू पटवारी भी दौड़ लगाते हुए दिखाई दिए। 

 

बता दें कि, 'भारत जोड़ो यात्रा' के दौरान एक दिव्यांग व्यक्ति भी यात्रा में शामिल हुआ और राहुल कुछ समय के लिए उसकी व्हीलचेयर धक्का देते भी दिखाई दिए। यात्रा में शामिल होने के बाद दिव्यांग मनोहर ने बताया कि उन्होंने राहुल से कहा कि अब देश बदलना चाहिए। बता दें कि, 'भारत जोड़ो यात्रा' रविवार को मध्य प्रदेश में 5वें दिन में प्रवेश कर गई है। इसमें शामिल लोगों ने संविधान निर्माण में अहम योगदान देने वाले डॉ. भीमराव आंबेडकर की जन्मस्थली महू में रात्रि विश्राम करने के बाद राहुल के नेतृत्व में पैदल चलना शुरू किया। यात्रा राऊ के उपनगरीय क्षेत्र से होते हुए इंदौर पहुंची। राऊ में यात्रा के स्वागत के लिए लाल कालीन बिछाई गई थी।

भारत जोड़ो यात्रा के दौरान टूटी कांग्रेस :-

बता दें कि, राहुल गांधी द्वारा निकाली जा रही भारत जोड़ो यात्रा के बीच कांग्रेस को लगातार झटके पर झटके लग रहे हैं। अब मध्य प्रदेश में भी कांग्रेस को तगड़ा झटका लगा है। श्योपुर जिले की विजयपुर विधानसभा के पूर्व MLA बाबूलाल मेवरा ने अपने लगभग 700 समर्थकों के साथ भाजपा का दमन थाम लिया है। बड़ी बात तो ये है कि, इस सब उस समय हुआ जब राहुल गांधी अपनी 'भारत जोड़ो यात्रा' लेकर मध्य प्रदेश में ही हैं। इससे पहले शुक्रवार को पूर्व सीएम कमल नाथ के सबसे भरोसेमंद लोगों में से एक उनके मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने कांग्रेस छोड़ भाजपा ज्वाइन कर ली थी। 

सजा है या मजा ? जेल में सत्येंद्र जैन को मिले 10 'सेवादार' ! AAP नेता का एक और Video

जहां वीर सावरकर ने गुजारे थे 10 साल, भारत आते ही उस 'सेलुलर जेल' को देखने पहुंचा G-20 प्रतिनिधिमंडल

26/11 को 'हिन्दू आतंकवाद' मान रही होती दुनिया, यदि 'तुकाराम ओंबले' न होते

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -