उजागर हुआ राहुल का राज संसद में क्यों मारी थी आंख

उजागर हुआ राहुल का राज संसद में क्यों मारी थी आंख

नई दिल्ली : संसद में अविश्वास प्रस्ताव पर कल चली बहस में काफी अलग नज़ारे देखने को मिले. TDP की ओर से शुरू हुई अविश्वास प्रस्ताव की बहस को हंसी-ठिठौली में बदलने में ज्यादा समय नहीं लगा. TDP की ओर से जयदेव गल्ला ने अविश्वास प्रस्ताव पर बहस की शुरुआत की. जहां उन्होंने एक के बाद एक मोदी सरकार पर जमकर हमले किए. बता दे कि संसद में अविश्वास प्रस्ताव के पहल TDP ने ही की थी.

राहुल की झप्पी के मुरीद हुए रामदेव

TDP ने अविश्वास प्रस्ताव पर करीब 15 मिनट तक भाषण दिया. इसके बाद सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी के तौर पर कांग्रेस ने मोर्चा संभाला. कांग्रेस की ओर से राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने भाषण की शुरुआत की. उनका भाषण मोदी सरकार पर लगातार भारी पड़ा. राहुल ने हर मोदी सरकार को जमकर घेरा. लेकिन अंत में उन्होंने एक ऐसा कारनाम कर दिया जो उनकी सारी मेहनत पर पानी फेर गया.

राहुल-मोदी के मिलन पर सुमित्रा ने कहा- मैं इसके ख़िलाफ़ नही लेकिन...

दरअसल, राहुल ने अपने भाषण की समाप्ति के बाद पीएम मोदी की सीट पर जाकर उन्हें गले लगाया. यहां कुछ समय के लिए मोदी थोड़े सख्त नजर आए. लेकिन बाद में उन्होंने राहुल को पुनः बुलाकर उनसे हाथ मिलाया और उनकी पीठ थपथपाई. यहां तक सब ठीक रहा. लेकिन जब राहुल गांधी अपनी सीट पर जाकर बैठे तब उन्होंने अपने दाएं ओर बैठे साथियों को मुस्कराते हुए आंख मार दी. बस फिर क्या था कल से करोड़ों देशवासी इस सवाल का जवाब मांग रहे हैं कि आखिर राहुल ने किसे और क्यों आंख मारी. तो आपको बता दे कि जब राहुल मोदी से गले मिलकर आए तब कांग्रेस के दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने उन्हें थम्स अप किया. इस पर राहुल ने हंसते हुए उनके आंख मार दी. 

राफेल पर फ्रांस ने दिया राहुल को जवाब

?