मिशन 2017 के लिए राहुल ने किया मथुरा से शुभारंभ

मथुरा : कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा उत्तरप्रदेश में मंथन का दौर प्रारंभ कर दिया गया है। इस दौरान उन्होंने मथुरा की ओर कूच किया। मथुरा के चिंतन शिविर में भाग लेने के बाद उन्होंने पार्टी नेताओं से कहा कि कुछ ही महीनों में पार्टी की कार्यप्रणाली और विचार में बदलाव आएगा। यही नहीं उन्होंने कहा कि कांग्रेस की विचारधारा को उन्हें लोगों तक पहुंचाना है और लोगों को कांग्रेस के कार्यों से परिचित करवाना है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस चौथे क्रम की पार्टी है। मगर विचारधारा में वह नंबर 1 है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि जिसके डीएनए में कांग्रेस है उसे कांग्रेस से नहीं काटा जा सकता है। कोई भी उसे कांग्रेस से अलग नहीं कर सकता। मामले में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि पहले वे अपने कार्यकर्ताओं को सैनिक की तरह देखा करते थे लेकिन अब वे उसे परिवार के सदस्य की तरह देखते हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें भाईचारा लाना है। उनके दिल में कांग्रेस है।

राहुल गांधी ने कहा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वयं ही अपना नुकसान कर रहे हें। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसानों के बीच जाते हैं तो वे आलोचना करने की बजाय गाली देते हैं। केंद्र सरकार द्वारा दिए गए वन रैंक वन पेंशन के तोहफे पर उन्होंने कहा कि एनडीए ने भी ओआरओपी पर अपना वादा पूरा नहीं किया है। केवल इसे लागू करना ही पर्याप्त नहीं है। इसे सही तरह से लागू करना और पूर्व सैनिकों की बातों पर ध्यान देना भी मायने रखता है।

राहुल ने यहां के बांके बिहारी मंदिर में दर्शन किए। उन्हें भगवान श्रीकृष्ण की प्रतिमा भी भेंट की गई। उल्लेखनीय है कि राहुल गांधी उत्तरप्रदेश में कांग्रेस में जान फूंकने में लगे हैं। वर्ष 2017 में यहां विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में कांग्रेस अल्पसंख्यकों को रिझाने और विकास का मसला सामने रखने के साथ यादव और अन्य वर्गों को लुभाने का प्रयास कर रही है। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -