जम्मू कश्मीर: राहुल गाँधी ने स्वीकार किया गवर्नर मालिक का न्योता, लेकिन रखी ये शर्त

Aug 13 2019 02:09 PM
जम्मू कश्मीर: राहुल गाँधी ने स्वीकार किया गवर्नर मालिक का न्योता, लेकिन रखी ये शर्त

नई दिल्‍ली: जम्मू कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाली संविधान की धारा 370 हटने के बाद राज्य के लोगों में असंतोष की बात कहने वाले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी घाटी का दौरा करेंगे। इससे पहले राहुल गांधी ने कश्‍मीर में हिंसा की आशंका जाहिर की थी। इस पर घाटी के गवर्नर सत्‍यपाल मलिक ने राहुल गांधी और विपक्षी नेताओं को सूबे के हालात को देखने के लिए निमंत्रित किया था।

गवर्नर सत्यपाल मलिक ने कहा था कि कश्‍मीर के हालात एकदम शांत हैं और वहां पर कोई अवांछित घटना नहीं घटी है। गवर्नर ने ये तक कह दिया था कि कश्‍मीर के अमन-चैन को देखने के लिए यदि राहुल गांधी यहां का दौरा करना चाहें तो वह हेलीकॉप्‍टर भेजने तक को तैयार हैं। उसी का जवाब देते हुए केरल की वायनाड लोकसभा सीट से सांसद राहुल गांधी ने कहा कि राज्‍यपाल महोदय, मैं और विपक्षी नेताओं का डेलीगेशन आपके आग्रह पर जम्‍मू-कश्‍मीर और लद्दाख जे दौरे पर आएंगे।

हालांकि, राहुल गांधी ने आगे ये भी कहा कि हमें किसी हेलीकॉप्‍टर की आवश्यकता नहीं है, किन्तु कृपया यह सुनिश्चित कीजिए कि हम स्‍वतंत्रतापूर्वक वहां का दौरा कर सकें और मुख्‍यधारा के नेताओं के साथ स्‍थानीय नागरिकों और वहां तैनात सेना के जवानों से भी मिल सकें। हालांकि, अभी तक सत्यपाल मलिक ने इस पर कोई टिप्पणी नहीं की है।

दिल्ली विधानसभा चुनाव में अकेले ताल ठोंकेगी जदयू, केंद्र में जारी रहेगा भाजपा से गठबंधन

सिक्किम में SDF को बड़ा झटका, एक साथ 10 विधायकों ने थामा भाजपा का दामन

कर्नाटक में बाढ़ ने मचाई भारी तबाही, येदियुरप्पा ने केंद्र से मांगे 10 हज़ार करोड़