द्रविड़ बने दृष्टिहीन टी -20 विश्व कप के ब्रांड एम्बसेडर

बेंगलुरु - भारत के महान बल्लेबाज  राहुल द्रविड़ का कहना हैं कि दृष्टिहीन क्रिकेट के खिलाडियों काफी प्रतिभा है. यह खिलाड़ी दूसरों के लिए प्रेरणास्त्रोत हैं जो हमें बताते हैं कि असली आंखें हमारे अंदर हैं और विश्व में कोई उसे छीन नहीं सकता. द्रविड़ ने दृष्टिहीनों के पक्ष में यह विचार तब व्यक्त किये जब उन्हें शुक्रवार को अगले वर्ष होने वाले दूसरे दृष्टिहीन टी-20 विश्व कप का ब्रांड एम्बेसडर बनाया गया.

 गौरतलब है कि यह टूर्नामेंट 28 जनवरी से 12 फरवरी तक खेला जाएगा. जो लीग-कम-नॉकआउट आधार पर भारत में अलग-अलग शहरों में खेला जाएगा. इसका पहला मैच नई दिल्ली और फाइनल बेंगलुरू में होगा.बता दें कि इस विश्व कप में भारत के अलावा आस्ट्रेलिया, बांग्लादेश, इंग्लैंड, नेपाल, न्यूजीलैंड, पाकिस्तान, दक्षिण अफ्रीका, श्रीलंका और वेस्टइंडीज हिस्सा ले रहे हैं.

इस बारे में द्रविड़ ने कहा कि दृष्टिहीन क्रिकेट को भारत और विश्व में बढ़ावा मिलना, लोगों को अपने भीतर छुपी योग्यताओं में विश्वास करने के लिए प्रेरित करेगा.जबकि भारतीय दृष्टिहीन क्रिकेट संघ (सीएबीआई) के अध्यक्ष माहनतेश जी.के ने ख़ुशी जाहिर करते हुए कहा कि महान बल्लेबाज राहुल द्रविड़ ने हमारे साथ हाथ मिलाया है और वह दृष्टिहीन क्रिकेट को बढ़ावा देने के हमारे उद्देश्य में हमारे साथ हैं.

आम व्यक्ति की समझ से बाहर है टी-20 :...

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -