दादरी जैसी घटनाये अर्थव्यवस्था की चाल में रोड़ा

By Hitesh Songara
Oct 08 2015 03:40 PM
दादरी जैसी घटनाये अर्थव्यवस्था की चाल में रोड़ा

नई दिल्ली : हाल ही में दादरी में हुए हत्याकांड के कारण पूरे देश में कोहराम देखने को मिल रहा है. जनता के साथ ही यहाँ सरकार भी इन्वॉल्व हो गई है, यही नहीं यहाँ राजनीति का भी एक अपना अलग ही दौर देखने में आ रहा है. अब इस मामले में रिज़र्व बैंक के गवर्नर रघुराम राजन भी सामने आये है, इतना ही नहीं बल्कि साथ ही उन्होंने अपनी बातों से सीधे केंद्र पर निशाना भी साधा है. रघुराम राजन ने इस मामले में कहा है कि देश में चल रहे लव-जिहाद और हत्याओं जैसे कारनामे देश की अर्थव्यवस्था की रफ़्तार को रोक रहे है.

उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी के बारे में बात करते हुए यह कहा है कि प्रधानमंत्री की तरफ से देश को रफ़्तार दिए जाने का प्रयास किया जा रहा है लेकिन ऐसी घटनाओं के माहौल में ये प्रयास कामयाब नहीं हो सकते है. राजन ने इस मामले पर चिंता जाहिर करते हुए कहा है कि यह घटना देश के लिए एक चिंता का विषय साबित हो रही है जिससे सम्भवतः कानून के साथ ही निपटा जा सकता है.

इसके साथ ही गवर्नर ने यह भी कहा है कि हमारे देश के प्रधानमंत्री और साथ ही वित्त मंत्री अरुण जेटली देश को तरक्की की और लेकर जाना चाहते है लेकिन यदि देश में ऐसी घटनाएँ होती रहती है तो यह बिलकुल भी संभव नहीं है. हमें ऐसी घटनाओं से निपटने की बहुत जरुरत है. यदि देश की अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाना है तो यह जरुरी है कि ऐसी घटनाओं को लॉ एंड आर्डर के भरोसे छोड़ दिया जाये. गौरतलब है कि कुछ समय पहले ही राजन ने ब्याज दरों में कमी की है और इसे उन्होंने सभी को खुशियों की सौगात भी दी है.