एक राफेल विमान की कीमत होगी इतनी, जाने

Mar 13 2018 01:48 PM
एक राफेल विमान की कीमत होगी इतनी, जाने

फ़्रांस के साथ हुए भारत के राफेल विमान सौदे को सरकार की तरफ से हरी झंडी मिल चुकी है. 2016 में इस विमान सौदे की घोषणा के बाद से ही यह सुर्ख़ियों में था क्यूंकि विपक्ष ने सरकार पर राफेल सौदे में विमानों की कीमतों को लेकर बड़े घोटाले का आरोप लगाया था इसी बीच सरकार ने कहा है कि एक विमान के लिए 670 करोड़ रूपये चुकाए गए हैं. रक्षा राज्यमंत्री सुभाष भामरे ने सोमवार को यह जानकारी राजयसभा में थी है. हालाँकि उन्होंने उपकारों, हथियारों व सेवाओं का ब्यौरा देने से इंकार कर दिया. सरकार की ओर से बताया गया है कि सुरक्षा मामलों की कैबिनेट कमेटी (सीसीएस) ने 58,000 करोड़ के राफेल विमान सौदे को 24 अगस्त 2016 को मंजूरी दे थी वहीँ इस सौदे पर 23 दिसम्बर 2016 को हस्ताक्षर कर दिए थे. आपको बता दें कि कांग्रेस ने सरकार पर आरोप लगाया था कि वह एक राफेल के 167.70करोड़ रूपये चूका रही है.


राफेल विमान सौदे की घोषणा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की 2015 में फ़्रांस दौरे के 16 महीने बाद ही कर दी गयी थी फ़्रांस यात्रा के दौरान ही प्रधानमंत्री की राफेल विमानों की खरीद पर सहमति बनी थी. यह जानकारी भामरे ने कांग्रेस सांसद विवेक तनखा के सवाल का जबाव देते हुए दी. कांग्रेस सांसद ने पूछा था कि क्या  इस सौदे की घोषणा करने से पूर्व सुरक्षा मामलों की कैबिनेट कमेटी (सीसीएस) से मंजूरी मांगी गयी थी ? अप्रैल, 2015 को पीएम मोदी और तत्कालीन फ्रांसीसी राष्ट्रपति फ्रांस्वा होलांदे के संयुक्त वक्तव्य में कहा गया था कि भारत ने फ्रांस सरकार को भारतीय वायुसेना की अहम ऑपरेशनल जरूरतों के लिए बहुउद्देशीय लड़ाकू विमानों की जरूरत से अवगत कराया है.

भारत सरकार शीघ्र ही मौजूदा स्थिति में 36 राफेल विमान की खरीद करना चाहती है दोनों नेताओं ने विमानों की आपूर्ति के लिए अंतर-सरकारी सौदे को पूरा करने पर सहमति जताई थी. इसमें कहा गया था कि विमान के साथ वही प्रणाली और हथियार मिलेंगे, जिनका परीक्षण करने के बाद भारतीय वायुसेना ने मंजूरी दी है.लंबे समय तक विमानों की देखरेख की जिम्मेदारी फ्रांस की होगी. कांग्रेस सरकार से इस सौदे में हथियारों और उपकरणों का ब्यौरा देने की मांग कर रही है. सरकार पर उसका आरोप है कि यूपीए के शासनकाल में यह सौदा काफी कम में हुआ था.

के एल राहुल के नाम जुड़ा अनोखा रिकॉर्ड

ये हैं भोजपुरी जगत की 5 सबसे खूबसूरत अभिनेत्रियां

निदहास ट्रॉफी: युवा शार्दुल ने की फाइनल की राह आसान