क्या मर्द-क्या औरत... कांग्रेस नेता उदित राज की पोस्ट पर हर कट्टरपंथी ने दी गालियां

नई दिल्ली: अफगानिस्तान में चल रहे संघर्ष और वहां लगातार बढ़ रहे आतंकी संगठन तालिबान के असर के बीच कांग्रेस के प्रवक्ता डॉ. उदित राज ने अफगानिस्तान में सालों पहले की स्थिति की तुलना भारत से करने का प्रयास किया, लेकिन अंततः उन्हें कट्टरपंथी मुस्लिमों की गालियों और आलोचना का शिकार होना पड़ा।

 

दरअसल, अपने ट्वीट में कांग्रेस नेता ने कुछ छात्राओं की फोटो अपलोड की थी, जो स्कर्ट पहने हुए थीं और उनके बारे में उदित राज ने लिखा कि 'यह 1960 के दशक के अफगानिस्तान के कॉलेज का दृश्य है लेकिन धर्मांधता ने आज कहाँ पहुँचा दिया। उन्होंने आगे लिखा कि आज वहाँ महिलाएँ गुलामी व बुर्का में कैद हो गई हैं और भारत भी इसी ओर बढ़ रहा है।' किन्तु उदित राज के इस पोस्ट के बाद कई कट्टरपंथी मुस्लिमों को उनकी यह बात रास नहीं आई और उन्होंने कमेंट में जाकर उदित राज को जमकर गालियाँ दी।

 

ज़ैद नाम के एक यूज़र ने लिखा कि, 'बुर्का क़ैद नहीं , बहन बेटियों का रुरक्षा कवच है। अगर इस बात का एहसास करना है तो ख़ुद अपने घर में अपनी जवान बेटी को बिल्कुल छोटे कपड़ों में देखें, एहसास हो जाएगा। ये कल्चर नीच है। और हां तालिबान ग़लत तो कर रहा है, अफगान पर कब्जा करके।'

 

ZM बाबर कुरैशी ने लिखा कि, 'अगर छोटे कपड़े पहनने में सभ्यता दिखाई देती है तो अपनी बेटी बहन बीवी को वेस्टर्न की तरह बिकिनी में घुमाओ जो धर्मांन्धता जी रहे है तो जीने दो, तुम जैसों को इतनी खुजली क्यों है।'  

 

शमा परवीन नामक एक यूज़र लिखतीं हैं कि, 'अगर मुस्लिम औरतों को प्रॉब्लम नहीं है तो तुमको क्यों इतनी प्रॉब्लम है, अपने काम से काम रखो, तुम्हारे में भी ऐसी बहुत सी प्रथा हैं, उनकी तरफ ध्यान दो,तुमको नंगा करके घूमना है घुमाओ अपनी औरतों को, दूसरे कैसा रख रहे है उसमे क्यों इतनी परेशानी है।' बता दें कि तालिबान ने अफगानिस्तान में कई नियम-कायदे बनाने की बात कही है। इसमें महिलाओं के लिए बहुत ही सख्त नियम बनाए गए हैं और तालिबानी आतंकियों द्वारा अफगानी महिलाओं का यौन शोषण भी किया जा रहा है। हाल ही में एक घटना सामने आई थी, जिसमे तालिबान ने एक 21 वर्षीय अफगानी युवती को केवल इसलिए मार डाला, क्योंकि वह हिजाब नहीं पहनी हुईं थी। 

शादी के सवाल पर भरे सदन में बोले थे अटल बिहारी वाजपेयी- मैं अविवाहित जरूर हूं, लेकिन कुंवारा नहीं...

पीएम मोदी ने किया महर्षि अरविंदो को याद, बोले- हमें उतना सामर्थ्यवान बनना होगा जितना...

हैती में आया खतरनाक भूकंप, 300 से अधिक लोगों की गई जान

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -