विश्वनाथन आनंद को पीछे छोड़ 12 साल के खिलाड़ी ने बनाया विश्व रिकॉर्ड

Jun 25 2018 02:42 PM
विश्वनाथन आनंद को पीछे छोड़ 12 साल के खिलाड़ी ने बनाया विश्व रिकॉर्ड

महज 12 साल 10 महीने के आर प्रग्गनानंधा ने शतरंज में इतिहास रचते हुए ग्रांडमास्टर का खिताब अपने नाम कर लिया. भारत का गौरव बढ़ाते हुए नन्हे खिलाड़ी प्रग्गनानंधा 12 साल 10 महीने और 13 दिन की उम्र में इटली में आयोजित हो रहे ग्रेडिन ओपन के फाइनल राउंड में पहुंचकर भारत के सबसे छोटे और दुनिया के दूसरे सबसे छोटे ग्रांडमास्टर होने का गौरब भी हासिल किया. उन्होंने विश्वनाथन आनद जैसे कई दिग्गजों के रिकॉर्ड को भी तो दिया है.

इससे पहले प्रग्गनानंधा ने  2016 में 10 साल 10 महीने 19 दिन में यंगेस्ट इंटरनेशनल मास्टर बनने का कारनामा भी कर दिखाया था. प्रग्गनानंधा फाइनल राउंड में रोनाल्ड के खिलाफ खेले. आर प्रग्गनानंद को प्यार से प्रग्गू कहा जाता है. उन्होंने कहा 'इस उपलब्धि के बाद मैं राहत महसूस कर रहा हूं. शायद अभी भी पूरी तरह समझ नहीं पा रहा हूं. आठवें राउंड में पहुंचने के दौरान किसी ने बताया कि मैं ग्रैंडमास्टर बनने वाला हूं. उससे पहले मुझे नहीं पता था. मैंने इस बारे नहीं सोचा क्योंकि इससे मेरा ध्यान भटक सकता था. मेरा अगला लक्ष्य विश्व चैंपियन बनने का है.'

गौरतलब है कि प्रग्गू ने भारत के महान शतरंज खिलाड़ी विश्वनाथन आनंद के 18 साल की उम्र में ग्रैंडमास्टर का खिताब जीतने के रिकॉर्ड को भंग कर दिया है.  

सचिन की सलाह की परवाह नहीं है ICC को

'तेज गेंदबाजों का भविष्य खतरे में हैं'

2003 में लगा था टी20 का पहला शतक

 

?