पुलिस की आँखों में धूल झोंक भाग गए हार्दिक पटेल

Sep 23 2015 01:36 AM
पुलिस की आँखों में धूल झोंक भाग गए हार्दिक पटेल

अहमदाबाद: पटेल समुदाय के लिए गुजरात में आरक्षण की लड़ाई लड़ने वाले हार्दिक पटेल ने मंगलवार को पुलिस को तब चकमा दे दिया जब उन्हें अरवली जिले के एक गांव में बिना अनुमति लिए एक जनसभा आयोजित करने के खिलाफ गिरफ्तार करने का प्रयास किया जा रहा था।

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक हार्दिक के द्वारा तेनपुर गांव में एक सभा को संबोधित किये जाने के बाद पुलिस ने उन्हें हिरासत में लेने की कोशिश की लेकिन वह एक गाड़ी में भाग गए। पुलिस महानिरीक्षक हसमुख पटेल ने बताया, हार्दिक ने बिना पूर्व अनुमति लिए मंगलवार को बायद तालुका के तेनपुर गांव में एक जनसभा को आयोजित की। जब पुलिस को इस बारे में मालूम पड़ा तो पुलिस बल हार्दिक को गिरफ्तार करने के लिए रवाना हो गया लेकिन वह गिरफ्तारी से बचने के लिए पुलिस को चकमा देकर वहां से भाग निकले।

उन्होंने आगे बताया की घटना के बाद पुलिस ने गांधीनगर, साबरकांठा और अरावली जिलों में बैरिकेट लगाये हैं। उनकी गिरफ़्तारी के लिए क्षेत्र में तलाशी अभियान किया जा रहा है। वही पुलिस अधिकारी ने यह भी बताया की हार्दिक को रात में हिरासत में लिया जा सकता है। अधिकारी ने यह भी बताया की हार्दिक को सभा के दौरान गिरफ्तार किया जाता तो वहां मौजूद स्थानीय लोगों द्वारा हिंसा हो सकती थी।

पुलिस महानिरीक्षक हसमुख पटेल ने घटना की पूरी जानकारी देते हुए बताया की, बैठक के बाद हमने हार्दिक और उनके समर्थको की 4 गाड़ियों को रोका लेकिन उनमें से 2 गाड़ियों ने यूटर्न लिया और भाग गए। उन गाड़ियों में से एक में हार्दिक पटेल सवार थे। उन्होंने जानकारी दी कि पुलिस ने हार्दिक पटेल को हिरासत में लेने के लिए आसपास के इलाको में घेराबंदी कर दी है।