शाहकोट उपचुनाव बना सुखबीर की साख का सवाल

चंडीगढ़ : शाहकोट उपचुनाव शिरोमणि अकाली दल के लिए साख का सवाल बन गया है .यहां सत्ताधारी कांग्रेस को घेरने की रणनीति बना ली है.अकालियों ने कांग्रेस को टक्कर देने के लिए बूथ स्तर पर चुनाव प्रचार की मुहिम चलाने और विधानसभा चुनाव के समय कांग्रेस द्वारा घोषणा पत्र में किए गए वादों को उठाने का फैसला किया है.

आपको बता दें कि शाहकोट उपचुनाव को शिरोमणि अकाली दल ने बहुत गंभीरता से लिया है .शिअद ने पंजाब श्‍ािक्षा बोर्ड की किताबों से सिख इतिहास हटाने व अवैध खनन के मामले में कांग्रेसी उम्मीदवार हरदेव सिंह लाडी शेरोवालिया के खिलाफ मामला दर्ज होने के मुद्दे को उठाने के साथ ही कांग्रेस द्वारा विधानसभा चुनाव के समय वोटरों से किए वादे याद कराने का भी निर्णय लिया है.पार्टी प्रधान सुखबीर सिंह बादल ने पार्टी के सभी विंगों के प्रधानों और पदाधिकारियों को 14 मई से शाहकोट में डेरा डालने के भी निर्देश दिए हैं .

उल्लेखनीय है कि सुखबीर शाहकोट उपचुनाव में अपनी सीट बरकरार रखने के लिए भरसक कोशिश कर रहे हैं .इसलिए वे कांग्रेस को कड़ी टक्कर देना चाहते हैं.सुखबीर सिंह बादल ने कांग्रेस सरकार पर सत्ता का दुरुपयोग कर चुनाव लड़ने का आरोप लगाया है. फिरभी अकाली दल अपने कार्यकर्ताओं  के कारण यह सीट जीतेगा. 

यह भी देखें

शाहकोट उपचुनाव के लिए अकाली दल ने रैली की

पंजाब में नए जिला प्रधानों की घोषणा जल्द होगी

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -