ब्रिटेन की महारानी और प्रधानमंत्री भी चीन को करते है नापसंद

लंदन : ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय द्वारा चीनियों पर की गई टिप्पणी कैमरे में कैद हो गई है। महारानी ने पिछले वर्ष चीन के राष्ट्रपति शी जिन पिंग की ब्रिटेन की राजकीय यात्रा के दौरान चीन के अधिकारियों को बहुत ही अशिष्ट कहा है।

दूसरी ओर ब्रिटेन के पीएम डेविड कैमरुन ने भी नाइजीरिया और अफगानिस्तान को दुनिया का सबसे भ्रष्ट देश कहा है। यह टिप्पणी एक शाही कैमरामैन ने लॉन पार्टी के दौरान रिकॉर्ड की है। नब्बे वर्षीय महारानी पिछले साल अक्तूबर में राष्ट्रपति शी की यात्रा के दौरान चीन में ब्रिटेन के राजदूत बारबरा वुडवार्ड के साथ चीन के अधिकारियों के व्यवहार पर चर्चा कर रही थीं।

जब महारानी स्कॉटलैंड यार्ड के कमांडर लूसी डियोर्सी से मिली, तब उन्होने कहा कि ओह, दुर्भाग्य। इस पर डियोर्सी ने कहा कि मुझे पता नहीं कि आपको ज्ञात है या नहीं लेकिन मेरे लिए वो बेहद मुश्किल भरा समय था। इसके जवाब में महारानी ने कहा कि हां मैं जानती हूँ।

डियोर्सी से कहा कि चीन के प्रतिनिधिमंडल के सदस्य राजदूत के साथ बहुत अशिष्टता से पेश आए। पुलिस कमांडर ने भी सहमति जताते हुए कहा, मुझे लगता है कि वे बहुत अशिष्ट और बहुत अराजनयिक थे। इस बारे में बकिंघम पैलेस के प्रवक्ता से पूछे जाने पर उन्होने कहा कि हम महारानी की निजी बातों पर टिप्पणी नहीं करते। कैमरुन ने भी कल होने वाले भ्रष्टाचार निरोधक शिखर सम्मेलन से पहले कही है। इस बैठक को नाइजीरिया के प्रसीडेंट मुहम्मदू बुहारी संबोधित करने वाले है।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -