प्यार जिंदगी है

प्यार जिंदगी है

जब देखू में तुझे जहा रंगीन नजर आता है ।

तेरी यादो से चेन किसको आता है ।

मेरे दिल की धड़कन तुम ही तो हो ।

तुम्हारे बिना यह संसार पागलखाना नजर आता है ।

वो प्यार ही क्या जिसमे कशिश न हो।

वो आशिक ही क्या जिस पर ऐतबार न हो।

प्यार तो सभी करते है पर वो प्यार ही क्या?

जिस पर हमें नाज न हो।

चाँद के लिए वो रात ही क्या?

जहाँ सितारे न हो। नदी के लिए वो लहर ही क्या?

जिसका किनारा न हो।

हमारे लिए वो सपने ही क्या?

जिसमे आपकी बात न हो।