पंजाब: कैबिनेट 'चन्नी' का, लेकिन टीम पूरी सिद्धू की, कैप्टन खेमे की छुट्टी करने में जुटी कांग्रेस

अमृतसर: पंजाब कांग्रेस में सीएम के नाम का पेंच सुलझने के बाद भी पार्टी की अंदरूनी सियासत में उथल-पुथल जारी है. पंजाब का नया CM पहले ही सिद्धू खेमे से चुना जा चुका है और अब कैप्टन अमरिंदर सिंह की टीम को पूरी तरह सरकार से दूर करने की कवायद जारी है. सिद्धू खेमा इसके लिए पूरी ताकत लगा रहा है. यही वजह है कि कैबिनेट विस्तार के लिए दिल्ली पहुंचे चरणजीत सिंह चन्नी (Charanjit Singh Channi) के साथ फ्लाइट में भी कैप्टन (Captain Amrinder Singh) के गुट का कोई नेता नज़र नहीं आया.

इस चार्टर विमान में सीएम चन्नी के साथ दोनों डिप्टी सीएम और राज्य कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) मौजूद बताए गए. कैप्टन के पुराने मंत्रिमंडल के कई चेहरों को चन्नी की नई कैबिनेट से दूर रखने की तैयारी है. बताया जा रहा है कि चरणजीत सिंह चन्नी के कैबिनेट में 5 नए चेहरों को मंत्री बनाया जा सकता है, ऐसे में कैप्टन गुट के नेता अपना मंत्री पद गंवा सकते हैं. हालांकि, ऐसे कयास हैं कि कैप्टन के विश्वासपात्र गुरमीत सिंह सोढी और साधू सिंह धरमसोत मंत्री पद पर बने रह सकते हैं. कैप्टन अमरिंदर सिंह की अगुवाई वाली कैबिनेट में सोढी खेल मंत्री जबकि धरमसोत सामाजिक न्याय मंत्री थे.

कांग्रेस नेता वेणुगोपाल के आवास पर पार्टी के शीर्ष नेतृत्व के साथ पंजाब के सीएम चरनजीत सिंह चन्नी, दोनों डिप्टी सीएम और प्रदेश कांग्रेस इकाई के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने राज्य कैबिनेट के विस्तार पर चर्चा की. ये बैठक तक़रीबन एक घंटे चली. बैठक के बाद पंजाब कांग्रेस के प्रभारी रावत ने कहा कि राज्य में सब कुछ सही है, जल्द ही नए मंत्रिमंडल का ऐलान किया जाएगा. हालांकि, उन्होंने कैबिनेट के नए चेहरों पर कुछ भी नहीं कहा.

'मेरी माँ को ईसाई बना दिया..', भाजपा विधायक ने कर्नाटक विधानसभा में उठाया 'धर्मान्तरण' का मुद्दा

ब्रिटेन ने रूस और चीन से अफगानिस्तान के दृष्टिकोण पर सहमत होने का किया आह्वान

बिहार के पूर्व सीएम जीतनराम मांझी ने 'श्रीराम' को बताया काल्पनिक, बयान पर मच सकता है बवाल

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -