पुलवामा हमला: शहीदों के परिवार को मिलेगी सहायता राशि, सरकार तैयार कर रही बैंक खातों की लिस्ट

नई दिल्‍ली : जम्‍मू-कश्‍मीर के पुलवामा जिले में सीआरपीएफ जवानों के काफिले पर हुए फियादीन आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों के पार्थिव शरीर आज दोपहर को उनके परिवार वालों के सुपुर्द किए जाएंगे. सीआरपीएफ के आधिकारिक सूत्रों ने बताया है कि यह निर्धारित किया गया है कि जवानों के अंतिम संस्कार में सुरक्षा बल की ओर से डीआईजी या कमांडेंट स्‍तर के अफसर शामिल होंगे. साथ ही सीआरपीएफ की ओर से शहीद हुए जवानों के परिजनों को वित्तीय सहायता भी दी जाएगी, जिसके लिए उनके बैंक खातों की जानकारी तैयार किया गया है. 

सिंधु ने जीत के साथ किया सीनियर राष्‍ट्रीय बैडमिंटन प्रतियोगिता का आगाज

सीआरपीएफ के सूत्रों के मुताबिक, हमले में शहीद हुए जवानों के पार्थिव शरीर उनके परिवारों के हवाले किए जाएंगे. भारतीय वायुसेना के सी-17 विमान से शहीदों के पार्थिव शरीर को राजधानी दिल्ली पहुँचाया जाएगा. यहां पालम एयरपोर्ट पर शहीदों को श्रद्धांजलि प्रदान की जाएगी. सूत्रों के हवाले से खबर आई है कि पीएम मोदी दिल्ली में शहीदों को श्रद्धाजंलि अर्पित करेंगे. जवानों के पार्थिव शरीर जम्‍मू-कश्‍मीर से दिल्ली लाने के लिए, भारतीय वायुसेना का सी-17 विमान गाजियाबाद के हिंडन एयरबेस से श्रीनगर के लिए निकल चुका है. सूत्रों के मुताबिक, शहीद हुए जवानों में से अधिकतर की पहचान हो चुकी है, वहीं उनमें से कुछ की स्थिति बेहद खराब होने की वजह से उनकी पहचान करने में दिक्कत आ रही है.

आरबीआई ने चार गवर्नमेंट बैंकों पर ठोंका पांच करोड़ का जुर्माना

घटना के बाद से ही गृह मंत्रालय और सीआरपीएफ की ओर से यह जानकारी एकत्रित की गई है कि, शहीद हुए इन जवानों के घर कहां-कहां हैं और उनके सम्‍मानपूर्वक जवानों के शरीर को उनके घरों तक पहुँचाने के लिए विशेष तौर पर हेलिकॉप्‍टरों की व्‍यवस्‍था की गई है. साथ ही शहीद जवानों के परिवार वालों के बैंक खाते की जानकारी भी ली गई है, ताकि उनकी सहायता के लिए बल की ओर से मुआवज़ा राशि दी जा सके.

खबरें और भी:-

अजमेर में आयोजित सेवादल की बैठक में राहुल ने साधा पीएम मोदी पर निशाना

260 पदों पर नौकरी, 12वीं पास को 2 लाख रु वेतन

गुरूवार को डॉलर के मुकाबले कमजोरी के साथ खुला रुपया

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -