'शी जिनपिंग कुर्सी छोड़ों..', चीन में सरकार के खिलाफ उग्र हुआ प्रदर्शन, पत्रकार को पुलिस ने पीटा

बीजिंग: चीन के विभिन्न शहरों की सड़कों पर जिनपिंग सरकार के खिलाफ उठा विरोध प्रदर्शन तेज होता जा रहा है। खबर है कि वहाँ सैंकड़ों स्टूडेंट्स, बीजिंग के चाओयांग जिले में जुटे हैं, जहाँ हर देश की एंबेसी स्थित है। यहाँ उन्होंने अपना विरोध प्रदर्शन किया, जो धीरे-धीरे चीन के अन्य शहरों और यूनिवर्सिटीज में भी फैलता नज़र आया। हालात देखते हुए प्रशासन भारी तादाद में पुलिस बल तैनात करना पड़ा।

इस बीच BBC ने बताया है कि रविवार को उनका एक पत्रकार चीन में हो रहे प्रदर्शन की कवरेज करने मौके पर पहुँचा था, मगर पुलिस ने वहाँ उन्हें अरेस्ट कर लिया। पत्रकार का नाम एड लॉरेंस बताया गया है, जिन्हें शंघाई में जारी प्रदर्शन की कवरेज करने पर पकड़ा गया। रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस ने लॉरेंस को घंटों हिरासत में रखा। इस दौरान पत्रकार को पुलिस द्वारा पीटा भी गया। बाद में उन्हें छोड़ दिया गया। BBC ने अपने बयान में कहा भी, 'यह देखना काफी चिंताजनक है कि हमारे पत्रकार पर उस वक़्त हमला हुआ, जब वो बस अपनी ड्यूटी कर रहा था।' BBC ने जानकारी दी है कि उनके पास इस घटना के बारे में कहीं से कोई सफाई नहीं आई है, बल्कि प्रशासन तो कह रहा है कि उन्होंने पत्रकार को उसके भले के लिए पकड़ा था, ताकि उसे भीड़ में कोरोना संक्रमण न हो जाए। BBC ने घटना के बारे में विस्तृत सफाई माँगी है।

बता दें कि चीन में लगे लॉकडाउन के बीच गुरुवार (24 नवंबर) को हुए बड़े हादसे में 10 लोगों की जान चली गई थी। इसके बाद शनिवार (26 नवंबर) को वहाँ विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया। सैंकड़ों लोग सड़कों पर उतर आए। उन्होंने चीन की वामपंथी सरकार के खिलाफ नारेबाजी की और अपना गुस्सा प्रकट किया।  सामने आई वीडियोज को लेकर दावे किए गए कि लोगों ने वामपंथी सरकार को चुनौती देते हुए कुर्सी छोड़ने को कहा। प्रदर्शनकारियों ने कहा कि, 'कम्युनिस्ट पार्टी कुर्सी छोड़ो, शी जिनपिंग कुर्सी छोड़ों।' 

जीरो कोविड पॉलिसी पर भड़के चीनी लोगों ने यह भी कहा कि, 'हमें PCR टेस्ट नहीं करवाना, हमें आजादी चाहिए, लॉकडाउन खत्म करो, लॉकडाउन खत्म करो।' एक रिपोर्ट के मुताबिक, इस प्रदर्शन के दौरान आम जनता पुलिस के सामने ही नारे लगाती रही, जिसे पुलिस भी चुपचाप देखती रही। सोशल मीडिया पर यह नजारा देख लोग बोले कि शायद ऐसा इसलिए हुआ, क्योंकि पुलिस भी दंग थी, जो कई दशकों से नहीं हुआ वो अब हो रहा है।

‘नरेंद्र मोदी स्टेडियम’ के नाम दर्ज हुआ गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड, पूरी दुनिया में बजा भारत का डंका

बिजली लाइनों से टकराया प्लेन, और फिर जो हुआ...

'बच्चों की हत्यारी सरकार..', ईरान में हिजाब विरोधी प्रदर्शन के बीच सर्वोच्च नेता की भांजी गिरफ्तार

 

 

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -