बनना चाहते थेे एक्टर और बन गये सिंगर

बनना चाहते थेे एक्टर और बन गये सिंगर

किस्मत किसी को कहीं भी ले जा सकती है। इसका अंदाजा कोई भी नहीं लगा सकता। ऐसे ही कुछ वाक्या सिंगर मोहित चैहान के साथ हुआ है। दरअसल मोहित चैहान अपने करियर में एक एक्टर बनना चाहते थे। लेकिन सुरीलि अवाज के कारण किस्मत ने उन्हे सिंगर बना दिया।

गायिकी के क्षेत्र में जाना पहचाना नाम कमाने वाले मोहित चैहान को कौन नहीं जानता। मोहित चैहान से मुलाकात के समय उन्होने बताया कि मुझ में शुरू से ही एक्टिंग का कीड़ा है। और इसे मैं अपने करियर में उतारना चाहता था। इसके लिए मैंने खूब मेहनत भी कि है। मोहित का कहना है कि मैंने बहुत थिएटर भी किए हैं। मैं एनएसडी का हिस्सा था। मैंने स्टेज पर कई लंबे नाटक भी किए हैं। बल्कि एक पल ऐसा भी आया जब मैं एफटीआईआई ज्वाइन करना चाहता था। मगर वहां कोई एक्टिंग कोर्स नहीं था। और शायद कुछ साल पहले ही वहां एक्टिंग कोर्स कि शुरूआत हुई है। और इसलिए मुझे एक्टिंग का मौका नहीं मिल पाया।

ऐसे हुई सिंगर कि शुरूआत

मोहित चैहान को सिंगर के क्षेत्र में पहचान अपने बैंड सिल्क रुट के गाने डूबा डूबा से मिली है। और इसके बाद बैंड टूट गया। मोहित ने साल 2005 में आई फिल्म मैं, मेरी पत्नी और वो के गीत गुंछा के साथ शुरुआत की। और इसके बाद से ही मोहित के केरियर को एक अलग पहचान मिल गई वह अब एआर रहमान, प्रीतम जैसे संगीतकार के लिए गाने गाने लगे। मोहित चैहान ने अपने करियर में मटरगश्ती, तुझे भुला दिया, साड्डा हक जैसे कई गीत गाए हैं। जो आज भी युवाओं की जुबां पर हैं।

मोहित का कहना है कि अगर एक्टिंग के लिए मुझे कोई आॅफर मिलता है तो मैं उसे जरूर करना चाहुंगा बशर्ते यह कुछ अलग होना चाहिए। मोहित ने अभी हाल ही में एक नए टीवी शो ये है आशिकि के लिए नीति मोहन के साथ मिलकर टाइटल ट्रेक को फिर से शुट किया है। इस अनुभव के बारे में बताते हुए मोहित ने कहा कि मैं बहुत उत्साहित हुॅं कि हम कुछ एपिसोड में साथ नजर आयेंगें।