राहुल गाँधी के बचाव में उतरीं बहन प्रियंका, कहा- भाजपा के जाल में ना फंसे

राहुल गाँधी के बचाव में उतरीं बहन प्रियंका, कहा- भाजपा के जाल में ना फंसे

नई दिल्ली: 2019 लोकसभा चुनावों में कांग्रेस पार्टी को मिली शर्मनाक शिकस्त के बाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस्तीफे की पेशकश कर दी। हालांकि, कांग्रेस के दिग्गज नेता पी. चिदंबरम ने कहा कि राहुल गांधी का स्थान फिलहाल पार्टी में कोई नहीं ले सकता है और अगर वे अपने पद से इस्तीफा दे देते हैं तो पार्टी कार्यकर्ता आत्महत्या कर लेंगे। सूत्रों का कहना है कि राहुल को इस्तीफा देने से रोकने के लिए प्रियंका वाड्रा ने भी कोशिश की। 

कांग्रेस के दिग्गज नेता ए के एंटनी, अहमद पटेल और चिदंबरम के साथ प्रियंका वाड्रा ने भी राहुल को इस्तीफे से रोकने का प्रयास किया। प्रियंका ने कहा है कि अगर राहुल गाँधी इस्तीफा देते हैं तो वे भाजपा के जाल में फंस जाएंगे। हालांकि, कांग्रेस कार्यसमिति ने राहुल के इस्तीफे को नामंजूर कर दिया और उन्हें बतौर अध्यक्ष कांग्रेस के लिए कोई भी निर्णय लेने की छूट देने की बात कही। 

कार्यसमिति में राहुल गांधी के इस्तीफा देने की पहले से ही चर्चाओं में था। हालांकि, अधिकतर विश्लेषक और पार्टी के जानकार भी मानकर चल रहे थे कि राहुल का इस्तीफा अस्वीकार कर दिया जाएगा। हालांकि, सबसे हैरान करने वाली बात यह रही कि राहुल अपने इस्तीफे की जिद पर अड़े रहे और पूर्व पीएम मनमोहन सिंह के समझाने के बाद भी वह अपने निर्णय से डिगे नहीं। 

उत्तराखंड में करारी शिकस्त के बाद सियासी हलचल तेज़, प्रदेश अध्यक्ष ने की इस्तीफे की पेशकश

चुनाव में ख़राब प्रदर्शन के बाद ममता बनर्जी ने किया बड़ा फेरबदल, अपने भतीजे से छीने अधिकार

कमलनाथ की मंत्री बोलीं, अब समय आ गया है कि, महाराज को राज्य की कमान सौंपी जाए