प्राइवेट क्लीनिक नए नियमों के अनुसार जल्द खोल सकेंगे

इंदौर: कोरोना के चलते लॉकडाउन को लागू क़िया गया. लॉकडाउन के वजह से सब अपने घर में कैद हो गए. लेकिन अब लॉकडाउन के चौथे चरण में रियायते मिलना शुरू हुई है. अब फैमिली फिजिशियन व जनरल प्रैक्टिशनर्स की बारी है अपनी जिम्मेदारी निभाने की. जिन पर मरीज अपने परिवार से ज्यादा विश्वास करता है. वे ही इंदौर को शत प्रतिशत मानसिक तौर पर स्वस्थ भी बनाएंगे.  

दरअसल, ये बात कलेक्टर मनीष सिंह ने शहर के डॉक्टरों के साथ एक बैठक में कही है. बैठक में सांसद शंकर लालवानी, डॉ. निशांत खरे भी मौजूद थे. रविवार को रेसीडेंसी कोठी में शहर के फैमिली फिजिशियंस के साथ एक बैठक रखी गई. इसमें प्राइवेट क्लीनिक जल्द शुरू करने की योजना भी बनाई गई है. इसे लेकर दो-तीन दिनों में दिशा-निर्देश भी जारी होंगे.
 
बता दें की कई तरीकों में बदलाव होंगे. वहीं, अपॉइंटमेंट का तरीका बदला जाएगा. फोन पर समय देने की होगी पहल. बैठक व्यवस्था को बदलना जरूरी. एक वक्त में चार से पांच मरीज ही वेटिंग करें, ऐसे होंगे प्रयास. हर मरीज के आने के बाद सफाई पर विशेष ध्यान रखना होगा. वहीं, आगर अति आवश्यक हो तो ही होम विजिट करें. प्रशासन सभी रजिस्टर्ड डॉक्टरों का बीमा भी कराएगा.   कोई मरीज पॉजिटिव आने पर पूरा क्लीनिक दो-तीन दिन सैनिटाइज कर फिर शुरू कर सकेंगे.

एयरपोर्ट पर फैला दहशत का माहौल, कुवैत से आए लोग कोरोना संक्रमित

उज्जैन में 18 लोगों ने कोरोना को दी मात, चार साल का मासूम भी है शामिल

कुशीनगर में दर्दनाक हादसा, बस पलटने से 12 मजदुर बुरी तरह घायल

जबलपुर में 9 नए केस आए सामने, अब तक 8 लोगों ने गवाई जान

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -