भारत की सियासत में ट्रस्टों के सोने को लेकर आया भूचाल, इस कांग्रेस नेता की हुई किरकिरी

कोरोना संक्रमण और लॉकडाउन के बीच महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता पृथ्वीराज चव्हाण के कोरोना संकट के दौरान देश के सभी धार्मिक ट्रस्टों में रखे सोने के भंडार का इस्तेमाल करने वाले बयान पर सियासत तेज हो गई है.इस बयान को लेकर भाजपा अब चव्हाण पर हमलावर है.भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कांग्रेस की तुलना मुगल आक्रमणकारियों से की है.

उत्तर प्रदेश : बड़ी खुशखबरी, दुकानदार को 10 हजार रुपये देगी योगी सरकार

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि सोशल मीडिया पर लोग कांग्रेस को जमकर कोस रहे है.देखते ही देखते ट्वीटर पर  #CongressEyesTemplesGold ट्रेड करने लगा.विवाद बढ़ता देख अब पूर्व सीएम ने अपनी सफाई में कहा है कि उनकी बात को गलत तरीके से पेश किया गया है.वह ऐसा करने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करूंगा.उन्होंने कहा कि मेरा सुझाव नया नहीं है.जब भी राष्ट्रीय आर्थिक संकट आता है, तो प्रधानमंत्री सोना संग्रह करने का सहारा लेते हैं।

सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने केंद्र सरकार को लेकर कही यह बात

अपने बयान में चव्हाण ने कहा कि, 'पीएम मोदी ने 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पुनरुद्धार पैकेज की घोषणा की थी.लेकिन सवाल पूछा गया है कि सरकार इन संसाधनों को कैसे जुटाएगी.मैंने सुझाव दिया था कि सरकार विभिन्न व्यक्तियों और धार्मिक ट्रस्ट से उनके पास पड़े बेकार सोने को जमा करने के लिए कहे।'

औरैया हादसा: 15 मजदूरों की मौत पर भड़के अखिलेश, बोले- ये हादसा नहीं, हत्या है

कोरोना वैक्‍सीन को लेकर मिली बड़ी सफलता, टेस्ट हुआ कामयाब

दीपावली के मौके पर इन शिल्पियों की मांग बढ़ने के आसार

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -