पृथ्वी शॉ की आंधी में टूटे कई रिकार्ड्स, सहवाग-सैमसन भी रह गए पीछे

Feb 25 2021 01:50 PM
पृथ्वी शॉ की आंधी में टूटे कई रिकार्ड्स, सहवाग-सैमसन भी रह गए पीछे

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम से बाहर चल रहे पृथ्वी शॉ ने विजय हजारे ट्रॉफी में इतिहास रच दिया है. पृथ्वी ने गुरुवार को जयपुर में मुंबई की तरफ से खेलते हुए पुडुचेरी के खिलाफ नाबाद दोहरा शतक ठोंका. पृथ्वी शॉ ने महज 152 गेंदों पर 227 रनों की कप्तानी पारी खेली, जिसमें 31 चौके और 5 छक्के शामिल हैं. 

लिस्ट-ए मैचों में भारतीय कप्तान द्वारा बनाया गया यह सबसे बड़ा स्कोर है. इससे पहले वीरेंद्र सहवाग ने 2011 में वेस्टइंडीज के खिलाफ खेलते हुए 219 रनों की कप्तानी पारी खेली थी. इसके साथ ही पृथ्वी ने विजय हजारे ट्रॉफी का सर्वोच्च स्कोर भी बना डाला है. इससे पहले यह रिकॉर्ड केरल के संजू सैमसन के नाम पर दर्ज था. 2019 में गोवा के खिलाफ मैच में सैमसन ने 212 रन बनाए थे. इससे पहले 50 ओवरों के टूर्नामेंट में एलीट ग्रुप 'डी' के मैच में पुडुचेरी ने टॉस जीतते हुए पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया. इसके बाद पृथ्वी शॉ ने पुडुचेरी के गेंदबाजों की जमकर धुनाई की. पृथ्वी ने 142 गेंदों पर अपना दोहरा शतक पूरा किया, जिसमें उन्होंने 27 चौके और 4 छक्के लगाए.
 
21 वर्षीय पृथ्वी के इस रिकॉर्ड पारी की बदौलत मुंबई ने निर्धारित 50 ओवरों में 4 विकेट पर 457 रन का स्कोर खड़ा किया. यह भारत में खेले गए लिस्ट-ए मैचों में सर्वोच्च स्कोर है. लिस्ट ए मैचों में किसी भारतीय टीम द्वारा बनाया गया यह दूसरा सबसे बड़ा स्कोर है. इंडिया-ए ने 2018 में लिसेस्टर के खिलाफ 458/4 का स्कोर बनाया था, जो एक भारतीय टीम का रिकॉर्ड है.

Ind Vs Eng: भारी सिक्योरिटी को ठेंगा दिखाकर मैदान में घुस आया कोहली का फैन, देखें Video

Ind Vs Eng: अक्षर पटेल ने रचा इतिहास, बने डे-नाईट टेस्ट में ये कारनामा करने वाले विश्व के दूसरे स्पिनर

राष्ट्रपति ने किया दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट ग्राउंड का उद्घाटन, नाम होगा- नरेंद्र मोदी स्टेडियम