अगर हो गया है हाइड्रोसील तो रोकथाम के लिए करें यह उपाय

आज के समय में हाइड्रोसील (hydrocele) होना आम बात हो गई है। यह एक प्रकार की सूजन है जो विशेष रूप से अंडकोष (testicle) में होती है। आप सभी को बता दें कि अंडकोष को घेरने वाले पतले से म्यान के बीच अधिक द्रव (fluid) के बनने से हाइड्रोसील होता है। जी हाँ और यह नवजात शिशुओं में बहुत कॉमन है और कुछ समय के अंदर यह अपने आप ही खत्म भी हो जाता है। हालांकि वयस्क पुरुषों में यह अंडकोष (testicle) में चोट लगने या सूजन के कारण दिखाई देता है। आज के समय में हाइड्रोसील किसी को भी हो सकता है लेकिन आमतौर पर 40 से ज्यादा उम्र के लोगों में पाया जाता है। आप सभी को बता दें कि इस बीमारी को ठीक करने के लिए अंडकोष (testicle) में जमा हुए पानी को बाहर निकालना बहुत जरूरी होता है। अब आज हम बताने जा रहे हैं हाइड्रोसील की रोकथाम कैसे कर सकते हैं।

हाइड्रोसील की रोकथाम कैसे करें - 
हाइड्रोसील से पीड़ित व्यक्ति को भारी चीज़ों को नहीं उठाना चाहिए क्योंकि इससे टेस्टिकल पर बुरा असर पड़ सकता है। 
हाइड्रोसील से पीड़ित व्यक्ति को हल्के व्यायाम करने चाहिए। जी दरअसल यह उसकी सेहत के लिए सही होते हैं। इसी के साथ ही इस बात का ध्यान रहे कि भारी सामान न उठाएं और ज्यादा देर तक व्यायाम न करें।
अगर आपने हाइड्रोसिलेक्टोमी सर्जरी कराई है तो कुछ हफ्तों तक यौन गतिविधियों (Sexual Activities) से खुद को दूर रखें।


हाइड्रोसील का इलाज कराने के तुरंत बाद सामान्य गतिविधियों को ना दोहराये।
हाइड्रोसील की रोकथाम करने के लिए मरीज को समय-समय पर दवाई लेनी चाहिए।
हाइड्रोसील के मरीज को डॉक्टर के संपर्क में तब तक रहना चाहिए जबतक वह पूरी तरह से ठीक नही हो जाता।  
हाइड्रोसील के आकार को बढ़ने से रोकने के लिए टेस्टिकल को बांधकर रखें।
हाइड्रोसील है तो दो रत्ती फूला हुआ सुहागा चार पांच दिनों तक रोज रात में ले।
हाइड्रोसील के दौरान  हल्दी को पानी में पीसकर अंडकोष पर लेप लगाने से सूजन कम और खत्म हो जाती है। 

सर्दी-खांसी से तुरंत राहत देगा इलायची पाउडर और नींबू का रस

अभी ठीक नहीं है लता मंगेशकर की तबीयत, रहेंगी ICU में

सर्दियों में जरूर खाने चाहिए ये सुपरफूड्स, नहीं होगा फ्लू और सर्दी-खांसी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -