आखिर क्यों पूरी तरह लॉकडाउन नही चाहते ट्रंप ?

आखिर क्यों पूरी तरह लॉकडाउन नही चाहते ट्रंप ?

दुनिया के अन्य देशों की तरफ अमेरिका में कोरोनावायरस का प्रभाव लगातार बढ़ता जा रहा है. ऐसे में वहां पर आंशिक लॉकडाउन है, लेकिन विशेषज्ञों का मानना है कि यदि पूरी तरह से लॉकडाउन नहीं किया गया तो हालात यहां पर चीन की तरह बेकाबू हो सकते हैं. वहीं, अमेरिकी राष्‍ट्रपति देश में पूरी तरह से लॉकडाउन का एलान करने के हक में नहीं हैं.आपको बता दें कि चीन के बाद कोरिया, ईरान, इटली स्‍पेन समेत पूरा यूरोप और अमेरिका इसकी जबरदस्‍त चपेट में है. यही वजह है कि जॉन हॉपकिन्स सेंटर फॉर हेल्थ सिक्योरिटी के निदेशक टॉम इंगल्सबी को अमेरिकी राष्‍ट्रपति की नेशनल लॉकडाउन न करने की राय गले नहीं उतर रही है.उन्‍होंने चेतावनी दी है कि यदि अमेरिका में कामबंदी का एलान जल्‍द ही नहीं किया गया तो कोरोना के फैलने की रफ्तार इतनी तेज होगी कि देश की चिकित्‍सा सेवाएं उसको संभाल नहीं पाएंगी. ऐसे में देश में लाखों लोगों की जान जा सकती है.

MCX : शाम के कारोबार में उछला सोना, जाने प्रति 10 ग्राम रेट

विदेशी मीडिया के अनुसार ट्रंप प्रशासन ओर अमेरिकी सांसदों के बीच इस बात को लेकर एकराय बन गई है कि अर्थव्‍यवस्‍था को इस महामारी के कुचक्र से बचाने और उबारने के लिए 2 ट्रिलियन डॉलर का पैकेज दिया जाएगा. गौरतलब है कि इस वायरस की वजह से पूरी दुनिया में गंभीर आर्थिक संकट बना हुआ है. दुनिया की तमाम वित्‍तीय संस्‍थाओं ने इस बात की आशंका जताई है कि इसकी वजह से दुनिया की जीडीपी में गिरावट आ सकती है.

कोरोना वायरस से बेखौफ होकर सड़कों पर लोगों के लिए उतरी अक्षरा सिंह

इस मामले को लेकर राष्‍ट्रपति ट्रंप ने कहा कि डॉक्‍टर चाहते हैं कि सबकुछ बंद कर दिया जाए, जो किसी भी सूरत से मुमकिन नहीं है. हालांकि, उन्‍होंने सोशल डिस्‍टेंसिंग वाले सिद्धांत पविचार करने पर जरूर हामी भर दी है. उन्‍होंने लोगों से ये भी कहा है कि जल्द ही अमेरिका व्यापार के लिए फिर से खुल जाएगा. आपको बता दें कि अमेरिका ने इस महामारी के बढ़ने के साथ बाहर से आने वाले यात्रियों पर रोक लगा दी है, लेकिन ट्रंप को उम्‍मीद है कि जल्‍द ही सब कुछ सही हो जाएगा. आपको यहां पर ये भी बता दें कि अमेरिका में इस वायरस के इलाज के लिए बनाए गए टीके का परीक्षण इंसानों पर चल रहा है. हालांकि, इसको कारगर बनने और दुनिया के सामने आने में अभी वक्‍त लगेगा. जानकारों का कहना है कि इसमें करीब एक से ड़ेढ साल तक का समय लग सकता है. व्हाइट हाउस की प्रेस ब्रीफिंग के दौरान राष्ट्रपति ट्रंप ने संकेत दिया है कि वे सामान्य बहाली का समर्थन करते हैं.

आखिर क्यों चिंतित हो गए ​दिग्विजय सिंह ?

लॉकडाउन पर वायरल हो रहा ये भोजपुरी गाना

फोन कॉल न उठाने पर पवन सिंह ने बोली ये बात