दादरी कांड पर बोले राष्ट्रपति : धर्म ना बने सत्ता की भूख शांत करने का मुखौटा

नई दिल्ली : राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने दादरी हत्याकांड जैसी घटनाओं पर एक और बयान दिया है. जॉर्डन यात्रा से पहले एक इंटरव्यू में राष्ट्रपति ने कहा है कि "भड़काऊ भाषण और डर फैलाने की कोशिश बंद होनी चाहिए. हमारे मूल्य और संस्कार हमारी रोजमर्रा की जिंदगी का हिस्सा होना चाहिए.''

उन्होने कहा कि 'सहिष्णुता और सह-अस्तित्व तो हमारी सभ्यता की नींव हैं. हमें इन्हें दिल में बसा कर रखना चाहिए और उदारता को बढ़ावा देना चाहिए और हमें इस बात का खास तौर पर ध्यान रखना चाहिए कि धर्म सत्ता की भूख शांत करने का मुखौटा न बनने पाए.''

गौरतलब है कि बीते बुधवार को भी राष्ट्रपति भवन में आयोजित कार्यक्रम में भी राष्ट्रपति मुखर्जी ने एक बयान जारी किया था इसके बाद ही PM मोदी ने दादरी हत्याकांड पर अपनी चुप्पी तोड़ी थी.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -