मंत्री के इस कारनामे पर भड़की प्रीति जिंटा

दिल्ली: आइपीएल 2018 में प्रीति जिंटा का गुस्सा आये दिन फुट रहा है. पहले किंग्स इलेवन पंजाब टीम के मेंटर वीरेंद्र सहवाग के साथ उनकी तल्खी सुर्खियों में रही. अब एक मंत्री जी पर उनके भड़कने की खबर है. पंजाब की टीम का होम ग्राउंड अब मोहाली से इंदौर शिफ्ट हो गया है और इस मैदान पर बुधवार रात को मुंबई इंडियंस और किंग्स इलेवन पंजाब के बीच मैच खेला गया था. इस रोमांचक मैच में प्रीति की टीम को 3 रन से हार का सामना करना पड़ा, लेकिन उन्हें तो इस हार से पहले ही गुस्सा आ गया था.

इस मैच को देखने के लिए मध्य प्रदेश सरकार के नेता और शिक्षा मंत्री कुंवर विजय शाह परिवार सहित भोपाल से इंदौर आए. लेकिन फ्रेंचाइजी ने वीवीआइपी पास देने की बजाय उन्हें गैलरी में बैठने के पास दिए जिस पर वह भड़क गए. जिसके बाद उन्होंने स्टेडियम से सटे हुए तीन गेटों पर ताले लगवा दिए.

दरअसल मध्य प्रदेश सरकार के एक मंत्री जी को वीआईपी टिकट नहीं मिला, जिस पर गुस्सा होकर मंत्री जी ने स्टेडियम की तरफ गुजरने वाले रास्ते बंद करवा दिए और अपने विभाग की जमीन पर पार्किंग पर भी रोक लगा दी. इस बात को लेकर प्रीति को काफी गुस्सा आ गया  उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस में मध्य प्रदेश सरकार के अफसरों और अधिकारियों के काम करने के तरीके पर सवाल उठाए. वहीं किंग्स इलेवन पंजाब के सीईओ सतीश मेनन ने बताया कि हर मैच में अधिकारी 60 से 70 लाख रुपये तक के टिकट की मांग करते हैं.

 

IPL 2018 LIVE : घर में दहाड़ी दिल्ली, चेन्नई को 34 रनों से मिली करारी हार

IPL 2018: इस खिलाड़ी को एक रन बनाने के लिए मिले 6 लाख 80 हजार रूपए

IPL 2018 LIVE : कोटला में चेन्नई को मिला 163 रनों का लक्ष्य

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -