एक मुट्ठी चावल से करे शिवलिंग की पूजा

भारतीय संस्कृति में चावल को अत्यधिक महत्व दिया गया है. चावल को पूर्णता का प्रतीक तथा देवताओं का प्रिय भोग माना गया है. आइये जानते है चावल से  किये  गए  उपाय - 

1- अगर आपके शत्रु आपको बहुत ज्यादा परेशान कर रहे हैं और आपके आगे बढ़ने के सभी रास्ते बंद कर दिए हैं तो यह उपाय आपके लिए ही है. साबुत उड़द की काली दाल के 38 और चावल के 40 दाने मिलाकर किसी गड्ढे में दबा दें और ऊपर से नीबू निचोड़ दें. नीबू निचोड़ते समय शत्रु का नाम लेते रहें, उसका शमन होगा और वह आपके विरुद्ध कोई कदम नहीं उठा पाएगा.

2-अमावस्या के दिन चावल की खीर बनाकर उसमें रोटी चूर लें तथा इसे कौओं के खाने के लिए घर की छत पर रख दें. इस उपाय से घर के पितरों का आशीर्वाद प्राप्त होता है. अगर कुंडली में किसी प्रकार का पितृ दोष हो तो उसका अशुभ असर भी समाप्त हो जाता है. साथ ही रूके हुए काम बनने लगता है.

3-सोमवार के दिन सुबह स्नान-ध्यान आदि से निवृत्त होकर शिवलिंग की पूजा करें. पूजा में अपने साथ लगभग आधा किलो या एक किलो चावल का ढेर लेकर बैठें. इसके बाद शिवलिंग की यथासंभव विधि-विधान से पूजा करें. पूजा के बाद एक मुट्ठी चावल शिवलिंग पर अर्पित कर दें. बाकी बचे चावल या तो मंदिर में ही दान कर दें या किसी जरूरतमंद व्यक्ति को दे दें. ऐसा लगातार पांच सोमवार तक करने से घर में अखंड लक्ष्मी का आगमन होता है.

अस्ताचल सूर्य को देंगे अध्र्य, घाटो के किनारे गूंजेंगे छठी मैया के गीत

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -