मनोकामना पूर्ति के लिए करे स्फटिक के शिवलिंग की पूजा

ऋषियों के अनुसार पारद स्वयं सिद्ध धातु है. शिवपुराण में पारद को शिव का वीर्य कहा गया है. पारद का शिव से साक्षात संबंध होने से इसका अपना अलग ही माहात्म्य है.पारद शिवलिंग के श्रद्धापूर्वक दर्शन मात्र से पुण्यफल प्राप्त होता है. गृहस्थ व्यक्तियों के लिए अन्य धातु के शिवलिंग की अपेक्षा पारद अथवा स्फटिक शिवलिंग की पूजा एवं स्थापना अधिक सिद्धिदायक होती है.

इसके नित्य पूजन, अभिषेक और दर्शन मात्र से मनोकामना पूर्ण होती है. जिन व्यक्तियों के पास धन की कमी न हो, लेकिन स्वास्थ्य ठीक न रहता हो उन्हें अपने घर में पारद शिवलिंग की पूजा-अर्चना करने से अच्छी आयु, आरोग्य की प्राप्ति होती है.

जिनके पास धन का अभाव हो, अधिक धन और यश की कामना हो तो उन्हें स्फटिक शिवलिंग की पूजा- अर्चना करने से मनोवांछित फल प्राप्त होता है.

हर साल बढ़ जाती है शिवलिंग की लंबाई

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -