बाहरी ब्राह्मण फूंक सकता है कांग्रेस में नई जान

नई दिल्ली : उत्तरप्रदेश में कांग्रेस को सत्ता दिलवाने और इस माध्यम से कांग्रेस में नई जान फूंकने के लिए प्रशांत किशोर बड़ी मेहनत कर रहे हैं। वे अपने दिमागी घोड़े दौड़ा रहे हैं। ऐसा ही एक प्रयास करते हुए उन्होंने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को यूपी का सीएम कैंडिडेट बनाने की अपील की है। यही नहीं उन्होंने तो यहां तक कह दिया है कि यदि राहुल सत्ता पर काबिज न हो पाऐं तो फिर प्रियंका वाड्रा या फिर दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को कमान दी जाना चाहिए।

इस प्रस्ताव को कांग्रेस ने नकार दिया हो लेकिन प्रशांत किशोर इसे लेकर प्रयास करने में लगे हैं। उनका कहना है कि यदि उत्तरप्रदेश में राहुल को नेतृत्व दिया जाता है तो फिर पार्टी अपनी खोई हुई ताकत फिर से पा सकती है। प्रशांत किशोर ने उत्तरप्रदेश में अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव हेतु जीत का नया फाॅर्मूला प्रस्तुत कर दिया है।

मिली जानकारी के अनुसार प्रशांत किशोर ने कांग्रेस को मुख्यमंत्री पद पर किसी बाहरी ब्राह्मण का चयन करने के लिए भी कहा है। उनका कहना है कि बाहरी ब्राह्मण कार्यकर्ताओं और मतदाताओं में जान फूंक सकता है। उनका कहना है कि यदि बाहरी ब्राह्मण को अवसर दिया जाता है तो फिर 13 प्रतिशत वोटर्स कांग्रेस के पक्ष में चले जाऐंगे।

यह कांग्रेस के लिए अच्छा रहेगा। उनहोंने पार्टी को पारंपरिक और नए मीडिया माध्यमों से प्रचार करने की सलाह भी दी है। उल्लेखनीय है कि प्रशांत किशोर ने लोकसभा चुनाव में पीएम मोदी को ब्रांड के तौर पर प्रस्तुत किया और जीत दिलवाई उसके बाद उन्होंने बिहार विधानसभा चुनाव में नीतीश को प्रोजेक्ट किया और नीतीश को जीत मिली। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -