महाराष्ट्र सरकार ने प्रणव धनावड़े की पूरी शिक्षा-दिक्षा की जिम्मेदारी उठाई

Jan 07 2016 04:39 PM
महाराष्ट्र सरकार ने प्रणव धनावड़े की पूरी शिक्षा-दिक्षा की जिम्मेदारी उठाई

मुंबई. विश्व में अपनी रिकार्ड बल्लेबाजी के दम पर क्रिकेट की दुनिया में तहलका मचाने वाले व्यक्तिगत स्कोर रिकॉर्डधारी मुंबई के 15 वर्षीय प्रणव धनावड़े के लिए एक खुशखबरी आई है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक प्रणव धनवाड़े जिन्होंने एक पारी में विश्व रिकॉर्ड 1009 रन बनाए है तथा जिसके बाद महाराष्ट्र सरकार ने प्रणव को छात्र स्तर पर सम्मानित करते हुए उनकी पूरी ही शिक्षा-दिक्षा की जिम्मेदारी उठाई है। इस बाबत महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन MCA ने अपनी और से ऐलान करते हुए कहा है कि हम घोषणा करते है कि विश्व रिकॉर्डधारी प्रणव धनावड़े को प्रतिमाह दस हजार रुपये छात्रवृत्ति के तौर पर दिए जाएंगे।

मुंबई क्रिकेट संघ द्वारा उन्हें अगले पांच वर्ष तक मासिक छात्रवृत्ति दी भी प्रदान की जाएगी। शरद पवार जो कि मुबंई क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष है उन्होंने अपने एक बयान में कहा कि प्रणव धनवाड़े के लिए एक पारी में विश्व रिकॉर्ड 1009 रन बनाने पर प्रति माह 10000 रुपये की छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी. तथा प्रणव धनावड़े को यह छात्रवृत्ति जनवरी 2016 से दिसंबर 2021 तक पांच साल तक मिलेगी। संघ इस दौरान प्रणव की क्रिकेट और शिक्षा संबंधी गतिविधियों पर निगरानी रखेगा।

प्रणव के इस रिकार्ड पर राज्य के खेल शिक्षा मंत्री विनोद तावडे ने कहा है कि प्रणव धनवाड़े के स्कोर ने महाराष्ट्र को गौरवांवित किया है हमे प्रणव पर गर्व है. गौरतलब है कि केसी गांधी हायर सेकेंडरी स्कूल कल्याण के 15 साल के प्रणव धनवाड़े ने आर्या गुरूकुल के खिलाफ एमसीए से मान्यता प्राप्त भंडारी कप स्कूल क्रिकेट टूर्नामेंट में नाबाद 1009 रन बनाये। उनकी 323 गेंद की पारी में 59 छक्के और 129 चौके शामिल हैं।