भूकंप से दहले ईरान व इराक

तेहरान। ईरान व इराक सीमा के समीप शक्तिशाली भूकंप का अनुभव किया गया। इसकी तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 7.2 आंकी गई है। भूकंप के चलते करीब 129 लोगों की मौत हो गई। हालात ये रहे कि भूकंप से बचने के लिए लोग यहां से वहां भागने लगे। ऐसे में कई ईमारतों को जमकर नुकसान हुआ। गौरतलब हे कि भूकंप में लगभग 300 से अधिक लोग घायल हो गए हैं।

रविवार को भूकंप रात्रि करीब 9.18 मिनट पर आया। इस समय अधिकांश लोग अपने घरों में मौजूद थे। भूकंप का अनुभव होने पर लोग अपने घरों से निकलकर मैदानी क्षेत्रों की ओर पहुंचे। यूएस जियोलाॅजिकल सर्वे द्वारा कहा गया है कि भूकंप का केंद्र इराकी कस्बे हलब्जा से दक्षिण व पश्चिम में 32 किलोमीटर दूर था। यह भूकंप करीब 15 मील की गहराई में आया।

भूकंप आने से दूरसंचार और विद्युत व्यवस्था ध्वस्त हो गई। आपदा प्रबंधन दल विभिन्न क्षेत्रों में पहुंचकर लोगों को राहत देने का कार्य कर रहा है। भूकंप से जमींदोज हो गई ईमारतों के मलबे को कटर से काटकर हटाया जा रहा है, मलबे के नीचे जीवन की तलाश की जा रही है। आधुनिक मशीनों के माध्यम से लोगों का पता लगाया जा रहा है। लोगों को राहत पहुंचाई जा रही है और उन्हें रसद सामग्री तक दी जा रही है। उल्लेखनीय है कि पांच साल पहले भी ईरान व इराक में दो बड़े भयानक भूकंप आए थे जिसमें सैंकड़ों लोगों की जान गई थी।

अगस्त 2012 में भी ईरान के उत्तर व पश्चिमी इलाके में दो जबर्दस्त भूकंपों में करीब 250 लोग मारे गए और 1300 से ज्यादा लोग घायल हुए थे। रविवार को जो भूकंप आया था उसका असर कुर्दिस्तान में भी हुआ है लेकिन अभी तक यहां से जानमाल के नुकसान की कोई जानकारी नहीं है।

मैक्सिको : अब भूकंप से पहले मोबाइल पर आ जाएगा अलर्ट

एक आइलैंड जहां 10 दिनों में 352 बार आया भूकंप

भूकंप के झटके ने हिमाचल को हिलाया

 

 

 

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -