कलाई में है दर्द तो बांधे आलू की पट्टी

आप सारा दिन कंप्यूटर पर बैठे रहते हैं. माउस और की-बोर्ड पर उंगलियां टकराना भले ही आपके काम का हिस्सा हो, लेकिन इसका जोर आपकी कलाइयों पर पड़ता है. कंप्यूटर पर अधिक देर तक काम करने से कलाइयां दर्द करने लगती हैं और साथ ही कारपल टनल सिंड्रोम भी हो सकता है.

इसलिए हम आपको बता रहे हैं कलाई के दर्द के लिए घरेलू उपचार. 

1-पुदीने का तेल कलाई के तेज दर्द से राहत पाने का अचूक उपाय है. पुदीने के तेल में कोई अन्य तेल मिला लें, इससे पुदीने के तेल से होने वाली जलन/ठंडक को कम किया जा सकेगा. अगर आप इसमें कोई अन्य तेल जैसे वेजिटेबल ऑयल अथवा ऑलिव ऑयल नहीं मिलाएंगे, तो इसका असर काफी तेज होगा और यह जलने लगेगा. पुदीने के तेल में अन्य तेल 1:4 से मिलाना चाहिए. यानी एक चम्मच पुदीने के तेल में चार चम्मच कोई अन्य तेल. इस तेल से अपनी कलाइयों की मालिश करें. थोड़ी-थोड़ी देर में इस तेल से मालिश करते रहने से फायदा होता है.

2-यदि आप सूजन से पीड़ित हैं, तो प्रभावित क्षेत्र पर रक्त के अतिरिक्त दबाव को कम करने से सूजन घटायी जा सकती है. इसके लिए आपको चाहिए कि सूजन व दर्द वाले हिस्से पर बर्फ के कुछ टुकड़े लगायें. हालांकि, इस बात का ध्यान देना चाहिए कि आप उस हिस्से को 20 मिनट से ज्यादा खुला छोड़ सकते.

3-कपड़े की साफ पट्टी में उबले आलू मैश करके प्रभावित क्षेत्र और उसके आसपास बांध लें. गरम आलू लंबे समय के लिए गर्मी बरकरार रखता है. इससे आपको लंबे समय तक सिंकाई इससे रक्त प्रवाह में सुधार होता है.

आवाज से जुड़े कुछ रोचक तथ्य

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -