इन ख़ास संदेशों से दें अपने प्रियजनों को पोंगल की शुभकामनाएं

Jan 09 2019 05:00 PM
इन ख़ास संदेशों से दें अपने प्रियजनों को पोंगल की शुभकामनाएं

आप सभी को बता दें कि तमिलनाडु में फसल कटने के बाद मनाया जाने वाला चार दिनों का त्यौहार पोंगल शुरु होने वाला है. ऐसे में पोंगल को उबालने के लिए इस्तेमाल होने वाले शब्द से अपना नाम मिला है और यह उत्सव सूर्य के उत्तरायण में प्रवेश करने पर मनाया जाता है. कहते हैं इस त्यौहार में चावल को एक मटके में पकाया जाता है और उसे भगवान सूर्य को अर्पित किया जाता है.

ऐसे में यह गर्मी और रौशनी के देवता को फसल को दिए जाने वाले आशीर्वाद की वजह से मनाया जाता है. इस पर्व के दिन सभी एक दूजे को इसकी शुभकामनांए देते हैं तो आइए आज हम आपको बताते हैं इसके कुछ शुभकामना संदेश जो आप अपने प्रियजनों को भेज सकते हैं. आपको यह भी बता दें कि पोंगल पर्व में किसान भगवान इंद्र और सूर्य की पूजा करते हैं और चार दिन तक चलने वाले इस त्यौहार में अलग-अलग ढंग से पूजा की जाती है. 

# गुल ने गुलशन से गुल्फाम भेजा है,
सितारों ने गगन से सलाम भेजा है
मुबारक हो आपको ये पोंगल,
हमने तहे दिल से यह पैगाम भेजा है.

# खुद को जलाकर हमें बचाने के लिए हम भगवान सूर्य का धन्यवाद करते हैं,
पेड़-पौधे हमारे लिए खुद का बलिदान करते हैं,
हमें जीवित रखने के लिए सभी जानवरों का धन्यवाद,
आप सभी को पोंगल की मुबारकबाद.


# जैसे ही आप पोंगल पोंगल कहें,
संपन्नता और धन का स्वागत करने के लिए,
बहते दूध के साथ मैं आपको पोंगल की शुभकामना देता हूं कभी ना खत्म होने वाली खुशी के साथ.

# भगवान करे कि आपके दिल में प्यार और मोहब्बत हमेशा उसी तरह बनी रहे,
जैसे कि पोंगल के मटके में चावल, पोंगल की हार्दिक शुभकामनाएं.

# पोंगल के इस पावन मौके पर भगवान सूर्य आपको अपनी गरमाहट दें,
पोंगल का यह पावन त्यौहार आपको गन्ने की मिठास की तरह और मीठा बनाए
मेरी ओर से पोंगल की शुभकामनाएं.

मकर संक्रांति पर अपने ख़ास को भेजे यह दिल छू लेने वाले संदेश

मकर संक्रांति पर करें इन सूर्य मन्त्रों का जाप, हर मनोकामना होगी पूरी

इस साल दो दिन मनाई जाएगी मकर सक्रांति, बन रहा है शुभ योग