दलित छात्र की सुसाइड पर गरमाई राजनीति, VC ने कहा केंद्र ने नही डाला दबाव

Jan 20 2016 09:30 AM
दलित छात्र की सुसाइड पर गरमाई राजनीति, VC ने कहा केंद्र ने नही डाला दबाव

हैदराबाद: हैदराबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर अप्पा राव का कहना है कि छात्रों पर कार्रवाई के लिए उन पर केंद्र की ओर से कोई दबाव नहीं बनाया गया था। न ही कार्रवाई के लिए मंत्रालय की ओर से आई चिट्ठी का उन्होंने जवाब ही दिया। वही दूसरी और हैदराबाद से लेकर देश की राजधानी दिल्ली तक इस मामले का विरोध किया जा रहा है. कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने केंद्र सरकार को घेर लिया है।

केंद्रीय मंत्री बंडारू दत्तात्रेय पर तरह - तरह के आरोप लगाए जा रहे हैं। हैदराबाद में विद्यार्थी संगठनों ने विरोध प्रदर्शन तेज़ कर दिया है। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी हैदराबाद पहुंचे। उन्होंने हैदराबाद की सेंट्रल यूनिवर्सिटी में विरोध करने वाले विद्यार्थियों से भेंट की। इस दौरान उन्होंने विद्यार्थियों को संबोधित भी किया। सांसद राहुल गांधी ने कहा कि विद्यार्थी अन्याय के विरूद्ध आवाज़ उठा रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिस तरह से विश्वविद्यालय में दलित विद्यार्थियों का सामाजिक बहिष्कार किया गया उसके खिलाफ विद्यार्थी एकजुट हो रहे हैं।

विद्यार्थी के पास आत्महत्या के अलावा किसी तरह का विकल्प नहीं बचा था। कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा कि दिल्ली में बैठे मंत्री ने भी अपना दबाव बनाया था जिसके कारण बच्चे परेशान हो गए। विश्वविद्यालय के कुलपति ने रोहित के परिवार से भेंट नहीं की। राहुल ने रोहित के परिजन को मुआवज़ा दिए जाने की मांग भी की।

जब विद्यार्थी विरोध कर रहे हैं तो उनके आंदोलन को दबाने का प्रयास किया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि छात्र की आत्महत्या के बाद कांग्रेस ने विरोध के सुर तीखे किए हैं तो आम आदमी पार्टी के प्रमुख और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्विट कर केंद्र सरकार पर हमला कर दिया। जिसमें उन्होंने लिखा था कि छात्र की मृत्यु आत्महत्या नहीं हत्या है।