ओड़िसा में दलबदल की राजनीति,भाजपा में शामिल हुए बीजद और कांग्रेस के कार्यकर्त्ता

ओड़िसा में हाल फ़िलहाल में एक बड़ी राजनैतिक हलचल देखने को मिली है. ओड़िसा की नवीन पटनायक सरकार और कांग्रेस पार्टी को तगड़ा झटका दिया है उनके पार्टी कार्यकताओं ने. रविवार को ओड़िसा के राउरकेला में भाजपा कार्यालय पर कार्यकर्त्ता मिलान कार्यक्रम का आयोजन किया गया. 

राउरकेला के सेक्टर-3 में स्थित भाजपा जिला कार्यालय में आयोजित इस कार्यक्रम में ओड़िसा के विभिन्न अंचलों के करीब 300 से भी ज्यादा युवाओं ने भाजपा का दामन थाम लिया और पार्टी को आगे लेकर जाने का वचन भी लिया . भाजपा का यह कार्यक्रम ओड़िसा की विभिन्न पार्टियों के लिए कड़ा झटका देने वाला था. भाजपा पार्टी के अचानक से हुए इस कार्यक्रम ने सियासी गलियारों में उथल-पुथल मचा दी है. 

भाजपा में शामिल 300 युवाओं में पहले बीजद व कांग्रेस से जुड़े युवा भी शामिल है. इतनी बड़ी संख्या में युवाओं का भाजपा में जुड़ना पार्टी को कितना फायदा या नुकसान पहुंचाएगा यह तो बाद में देखने को मिलेगा पर कार्यकर्ताओं के इस कदम ने बीजद व कांग्रेस पार्टी को सकतें में जरूर डाल दिया है. 

भाजपा पार्टी के इस इस कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री जुएल ओराम, जिलाध्यक्ष जगबंधु बेहरा, राज्य कार्यकारिणी सदस्य निहार राय, केदार महंती, जिला प्रभारी व प्रदेश उपाध्यक्ष सुकेशी ओराम,परेश मिश्र, अजय कंसारी, हरविंदर सिंह, अंकुश वर्मा तथा अन्य भाजपा नेताओं की उपस्थिति दर्ज करवाई.

ओडिशा में आकाशीय बिजली का कहर बरक़रार, 3 साल में आंकड़ा 1,256 मौतों के पार

पत्नी की सरेआम हत्या कर सास को घायल किया

ओडिशा और पश्चिम बंगाल को मौसम विभाग की चेतावनी

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -